UP Election 2022 को लेकर राजनीतिक सरगर्मी अपने चरम पर पहुंच चुकी है। राजनीतिक दल लगातार एक-दूसरे के खेमे में सेंध लगा रहे हैं। अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी ने सबसे पहले इसकी शुरुआत की थी। अब इसके बाद भाजपा ने मुलायम सिंह यादव के घर में ही सेंध लगाकर सबको चौंका दिया। मुलायम की बहू अपर्णा यादव को पार्टी की सदस्यता दिला दी। अब आज कांग्रेस को झटका लगने जा रहा है।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के 'लड़की हूं, लड़ सकती हूं' अभियान की पोस्टर गर्ल प्रियंका मौर्य भाजपा में शामिल हो सकती हैं। खबर है कि उन्हें आज लखनऊ में भाजपा की सदस्यता दिलाई जाएगी। बताया गया है कि कांग्रेस से टिकट नहीं मिलने से प्रियंका मौर्या नाराज हैं। उनको प्रियंका गांधी का खास सहयोगी माना जाता है, लेकिन अब उल्टा हो रहा है।

यूपी में महिला कांग्रेस की उपाध्यक्ष प्रियंका मौर्य ने कहा कि "उन्होंने मेरे चेहरे, मेरे नाम और मेरे 10 लाख सोशल मीडिया फॉलोअर्स का इस्तेमाल प्रचार के लिए किया। लेकिन जब चुनाव के लिए टिकट की बात आई, तो किसी और को दे दिया जो कि अन्याय है। मौर्या ने कहा कि मुझे टिकट नहीं मिला क्योंकि मैं एक ओबीसी की लड़की हूं और प्रियंका गांधी के सचिव संदीप सिंह को रिश्वत नहीं दे सकती।

उधर, उत्तराखंड महिला कांग्रेस प्रमुख सरिता आर्य ने कहा, "लड़की हूं, लड़ सकती हूं" ने हमारे अंदर उम्मीद लगाई है। इसकी एवज में हमने मांग की है कि राज्य के चुनावों में महिलाओं को 20 फीसदी वोट मिले।