यूपी में विधानसभा चुनाव की सरगर्मियां शुरू होने वाली है। लेकिन इसी बीच नाम बदलने का एक और मामला सामने आया है। अब यहां के उन्नाव जिले में मियांगंज ग्राम पंचायत का नाम बदलने का प्रस्ताव किया गया है। इस ग्राम पंचायत का नाम बदलकर मायागंज करने का प्रस्ताव है। उन्नाव के जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने मियांगंज का नाम बदलकर 'मायागंज ' करने की कार्यवाही पूरी कर शासन को प्रस्ताव भेज दिया है। डीएम रवीन्द्र कुमार ने अपर मुख्य सचिव पंचायती राज को इस संबंध में रिपोर्ट भेजी है।

गौरतलब है कि 2017 के विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक जनसभा के दौरान वादा किया था कि चुनाव जीतने पर मियांगंज का नाम मायागंज किया जाएगा।

पिछले चुनाव में किए गए योगी आदित्यनाथ के वादे को अब आने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पूरा करने की कार्यवाही की जा रही है। डीएम उन्नाव ने 24 अगस्त की तारीख वाला जो पत्र अपर मुख्य सचिव को इस संबंध में भेजा है, उसमें बताया गया है कि विकास खण्ड मियांगंज के नाम बदलने का प्रस्ताव पंचायत स्तर पर पारित किया जा चुका है। पत्र में मांग की गई है इस प्रस्ताव पर आगे की कार्यवाही हो।

गौरतलब है कि यूपी में योगी राज आने के बाद से लगातार शहरों और प्रमुख स्थानों के नाम बदलने का चलन देखा गया है। इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर दिया गया है। मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर किया गया है। इनके अलावा, अलीगढ़ जिले का नाम हरिगढ़ करने का प्रस्ताव किया गया है, जबकि मैनपुरी का नाम मयनऋषि करने का प्रस्ताव जिला पंचायत में पास हो गया है। वहीं, फिरोजाबाद का नाम चंद्रनगर रखे जाने की मांग है तो झांसी रेलवे स्टेशन का नाम रानी लक्ष्मीबाई के नाम पर किया जाने का प्रस्ताव है।

इस तरह यूपी के कई शहरों और जगहों के नाम या तो बदले जा चुके हैं या बदलने के प्रस्ताव हैं। इसी कड़ी में अब उन्नाव की ग्राम पंचायत मियांगंज का नाम जुड़ गया है।