उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri of Uttar Pradesh) जिले में चार किसानो समेत आठ लोगों की मौत के मामले में पुलिस ने केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्र टेनी (Union Minister of State for Home Ajay Kumar Mishra Teni) के पुत्र आशीष मिश्र उर्फ मोनू के आवास पर नोटिस चस्पा कर शुक्रवार तक पुलिस लाइन में पूछताछ के लिये हाजिर होने का निर्देश दिया है। पुलिस महानिरीक्षक लक्ष्मी सिंह ने गुरूवार को बताया कि लखीमपुर मामले के दर्ज एफआईआर में आरोपी 14 लोगों में शामिल आशीष मिश्र को पुलिस ने थाने में तलब किया है। 

उन्हे शुक्रवार तक का समय दिया गया है। मिश्र के आवास में इस संबंध में नोटिस चस्पा की गयी है। पुलिस मामले की तह में जाने के लिये तेजी से काम कर रही है। इस सिलसिले में कुछ लोगो से पूछताछ की जा रही है हालांकि अभी तक किसी को गिरफ्तार नही किया गया है। नोटिस में कहा गया है कि आशीष शुक्रवार सुबह दस बजे पुलिस लाइन स्थित अपराध शाखा के कार्यालय में सभी साक्ष्यों के साथ हाजिर हों। 

गौरतलब है कि रविवार को वाहन से कुचले जाने से चार किसानो की मौत हो गयी थी जिसके बाद हिंसक भीड़ ने कार चालक और दो भाजपा (BJP) कार्यकर्ताओं के अलावा एक पत्रकार की पीट पीट कर हत्या कर दी थी। शुरूआती जांच में घटना में आशीष की भूमिका उजागर हुयी थी हालांकि केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी ने अपने पुत्र की इस वारदात में भूमिका से इंकार करते हुये चुनौती दी थी कि यदि घटना में उसकी संलिप्तिता के प्रमाण मिलते है तो वे अपने पद से इस्तीफा दे देंगे।