दिल्ली हिंसा के बीच चौंकाने वाली खबर आई है कि एक जगह पर सरेआम उग्रवादियों की भर्ती की जा रही है। यह घटना असम की है जहां पुलिस और आर्मी ने एक साझा अभियान चलाकर एक ऐसे रैकेट का भंडाफोड़ किया है जो सरेआम उग्रवादियों की भर्ती कर रहा था। यह भर्ती उग्रवादी संगठन United Liberation Front of Asom (ULFA) द्वारा राज्य के तिनसुकिया जिले में की जा रही थी।

पुलिस ने इस अभियान के दौरान पिदले 48 घंटों में उल्फा आई के 4 कैडरों और 4 चयनित उग्रवादियों को पकड़ा है। पकड़े गए उग्रवादियों की पहचान दिगंता गोगोई, खोगेन मोरेन, राना हांदिक और अभिजीत गोगोई के रूप में की गई है। ये सभी लोग राज्य के अलग अलग जिलों जैसे माकुम, डिगबोई तथा काकोपोथार आदि के रहने वाले हैं।

पुलिस और आर्मी द्वारा यह अभियान 24 फरवरी को चलाया गया था जिसमें दो 7.65एमएम पिस्तौल, एक .22एमएम पिस्तौल, भारी संख्या में गोलियां, तीन उल्फा आई के झंडे, एक जोड़ी जंगल के जूते आदि बरामद किए गए हैं।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360