एक महीने लगातार युद्ध होने के बाद भी यूक्रेन और रूस के बीच युद्ध शांत नहीं हुआ है।  हाल ही में हुई तुर्की के इस्तांबुल में वार्ता से भी कोई बात नहीं बन पाई है। आज के दिन के सहित  युद्ध को 34 दिन हो चुके हैं। यूक्रेन सेना रूसी सेना से डटकर मुकाबला कर रही है। हालांकि यूक्रेन पूरी तरह से बर्बाद हो चुका है लेकिन अपनी जमीन बचाने के लिए रूस को बराबर की टक्कर दे रहा है। इसी बीच यूक्रेन सेना हिम्मत दिखाते हुए  रूस को जोरदार झटका दिया है।

 


यूक्रेन सेना ने हिम्मत दिखाते हुए पहली बार रूसी इलाके में घुसकर एक रूसी सैन्य शिविर में बड़ा विस्फोट कर दिया जिससे रूस में तहलका मच गया है। रूसी सैनिक हैरान है कि यूक्रेन के सैनिकों ने आखिरकार इस हमले को अंजाम कैसे दिया।

यह भी पढ़ें- हथौड़े से उतारा मौत के घाट फिर बॉडी के टुकड़े टुकड़े कर सड़क बिखेरा, जानिए खौफनाक मौत मिस्ट्री


रूसी सैन्य शिविर पर विस्‍फोट

रूस के इलाके में  एक बड़े पैमाने पर विस्फोट हुआ जिसमें 4 लोग घायल हो गए हैं। ऐसा प्रतीत होता है कि यूक्रेनी सेना द्वारा गोली चलाई गई थी जो कि सीमा पर पहला गंभीर हमला है। देर रात सीमा पार एक रूसी सैन्य शिविर में एक बड़े विस्फोट के पीछे यूक्रेनी बलों को माना जाता है। साथ ही बेलगोरोड के पास एक संदिग्ध अस्थायी सैन्य अड्डे पर हमला हुआ है।

 

स्थानीय रूसी समाचार आउटलेट्स से अपुष्ट फुटेज में रूस में बेलगोरोड के पास एक संदिग्ध अस्थायी सैन्य अड्डे पर गोला-बारूद से बड़े पैमाने पर आग के गोले आते दिखाई दे रहे हैं।

रूसी सेना से इरपिन मुक्‍त


उधर यूक्रेनी बलों ने मंगलवार को रूसी सेना से घिरे शहर इरपिन को कथित तौर पर मुक्त करा लिया है जिसे हवाई हमलों से नष्ट कर दिया गया था। इरपिन के मेयर ऑलेक्ज़ेंडर मार्कुशिन ने अपने ट्विटर अकाउंट पर इस खबर की घोषणा की और वादा किया कि रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण शहर को फिर से लेने के किसी भी रूसी प्रयास को रद्द कर दिया जाएगा।