रूसी सेना (Russian army) ने यूक्रेन के मारियुपोल पर बमबारी तेज कर दी है। इस दौरान एक कला स्कूल पर बमबारी की गई है, जहां 400 लोगों ने शरण ली थी। खलीज टाइम्स ने मंगलवार को सूचना दी। हमले के तुरंत बाद रूस ने मांग की कि शहर में छिपे यूक्रेनी शहर से सुरक्षित बाहर निकलने के लिए अपने हथियार डाल दें, जिसे यूक्रेनुयों ने खारिज कर दिया था। 

यह भी पढ़ें- LPG Price Latest: घरेलू एलपीजी सिलेंडर आज से 50 रुपये महंगा

अब मारियुपोल रूसी हमलों का दंश झेल रहा है। इस बीच यूक्रेन के जापोरिज्जिया क्षेत्र के गवर्नर ने रूसी सेना पर नागरिकों को लेकर जा रही बसों पर हमला करने का आरोप लगाया है, जुसमें चार बच्चे घायल हो गए। रूसी सेना ने यूक्रेन के ऊपर हमले तेज कर दिए है। उसने पिछले 24 घंटों में 300 से अधिक विमानों को उड़ाया है। 

वहीं कीव ने भी आसमान में रूसी श्रेष्ठता को कम करने के लिए अपने स्वयं के हवाई अभियानों को बढ़ाया है। कीव के मेयर ने सोमवार को कहा कि वह शहर में लंबे समय तक कर्फ्यू लगाएंगे क्योंकि अधिकारियों को रूसी सेना द्वारा और गोलाबारी की उम्मीद है। 

यह भी पढ़ें- स्पाइस जेट ने गुवाहाटी से दिल्ली और चेन्नई के लिए दो नई सीधी उड़ानें शुरू की

इस बीच, यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोदिमिर जेलेंस्की ने सोमवार को कहा कि यूक्रेन में युद्ध को समाप्त करने के लिए व्लादिमीर पुतिन के साथ 'किसी भी प्रारूप में' बैठक की आवश्यकता है। राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में जेलेंस्की ने कहा कि यूक्रेन शांति में रुचि रखता है, और रूस के साथ चल रही बातचीत आवश्यक है।