भारत में कोरोना वायरस का विदेशी रूप लंदन से दिल्ली लौटी फ्लाइट में पहुंच चुका है क्योंकि यहां पर 5 पॉजिटिव मिले हैं। इस समय लंदन में कोरोनावायरस का नया स्ट्रेन मिलने से दहशत है। कल रात दिल्ली लौटी एक फ्लाइट में सवार 266 लोगों में से पांच की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उनके सैम्पल रिसर्च के लिए नेशनल सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल (NCDC) भेजे गए हैं। सभी पैसेंजर्स और क्रू मेंबर्स को आइसोलेशन में रखा गया है। दिल्ली में कोविड-19 के नोडल ऑफिसर ने मंगलवार को यह जानकारी न्यूज एजेंसी को दी।

इस बीच, मुंबई में भी लंदन से लौटीं दो फ्लाइट के यात्रियों को एयरपोर्ट से सीधे होटल ले जाया गया। उन्हें यहां आइसोलेशन में रखा गया है। हालांकि, कुछ यात्रियों ने इस पर नाराजगी जताई और कहा कि उन्हें इस बारे में पहले से कोई जानकारी नहीं थी। लंदन में हाल ही में कोरोना का नया स्ट्रेन (बदला रूप) मिला है। इसे पहले से 70% ज्यादा संक्रामक माना जा रहा है।ब्रिटेन में कोरोना का नया स्ट्रेन मिलने के बाद महाराष्ट्र सरकार ने मिडिल ईस्ट और यूरोप से आने वाले सभी यात्रियों को 14 दिनों तक इंस्टीट्यूशनल क्वारैंटाइन में रखने का आदेश दिया है। 22 दिसंबर रात 11:59 बजे तक ही ब्रिटेन से यात्री भारत आ सकेंगे। इसके बाद 31 दिसंबर तक वहां से आने वाली फ्लाइट्स पर अस्थायी रोक लगा दी गई है।यूरोप से मुंबई आने वाले यात्रियों को इंस्टीट्यूशनल क्वारैंटाइन सेंटर और होटल्स तक पहुंचाने के लिए 50 से अधिक बेस्ट बसों का इंतजाम किया गया है। हर ट्रिप के बाद बसों को पहले सैनिटाइज किया जा रहा है, इसके बाद ही किसी को इसमें बैठाया जा रहा है।