ब्रिटेन की ब्यूटी क्वीन लीन क्लाइव (Leen Clive) बेहद खूबसूरत और सुपर मॉडल है। लेकिन इस मॉडल को ग्लोबल ब्यूटी कांटेस्ट 'मिसेज वर्ल्ड' में हिस्सा लेने के लिए अमेरिका जाने की इजाजत नहीं दी है। इसको लेकर क्लाइव का कहना है कि उन्हें वीजा देने से इसलिए मना कर दिया गया, क्योंकि उनका जन्म सीरिया (Syria) में हुआ है।

29 वर्षीय मॉडल लीन क्लाइव को 15 जनवरी को अमेरिका के Las Vegas में 'मिसेज वर्ल्ड' कांटेस्ट में हिस्सा लेने के लिए जाना है, लेकिन उन्हें वीजा देने से मना कर दिया गया है। क्लाइव को इस कांटेस्ट में ब्रिटेन का प्रतिनिधित्व करना है।

BBC ने क्लाइव के हवाले से बताया कि Las Vegas जाने के लिए उनके पति और बेटी को वीजा दिया गया था, लेकिन उन्हें वीजा देने से मना कर दिया गया है। क्लाइव का आरोप है कि ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि वह सीरिया के दमिश्क (Damascus) में पैदा हुई थीं। हालांकि, अमेरिकी अधिकारियों ने इस मामले में कोई भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है।

लीन क्लाइव शादीशुदा हैं और वो 2013 से ब्रिटेन में रह रही हैं। उन्होंने ब्रिटेन की भाषा (अंग्रेजी) बोलना सीख लिया है। वह पेशे से डॉक्टर हैं और अभी उनकी ट्रेनिंग चल रही है। इसके साथ वो एक मॉडल भी हैं।

क्लाइव ने महिला समानता और शरणार्थियों के अधिकारों के लिए एक प्रोग्राम भी चलाया था. वह 15 जनवरी को 35वें वार्षिक Mrs World Competition में भाग लेने वाली थीं। लेकिन वीजा ना मिल पाने के कारण वो इसमें हिस्सा नहीं ले पाएंगी। इस कांटेस्ट में क्लाइव के अलावा अलग-अलग देशों की 57 अन्य महिलाएं भाग लेंगी।

इस मसले पर क्लाइव ने कहा- "मैंने ब्रिटिश पासपोर्ट के साथ आवेदन किया था। मैं ब्रिटेन का प्रतिनिधित्व कर रही हूं और मैं एक ब्रिटिश नागरिक हूं, मुझे नहीं पता था कि अमेरिका में एंट्री से रोक दिया जाएगा"। क्लाइव ने अमेरिकी दूतावास से कांटेस्ट में भाग लेने के लिए समय पर वीजा देने की अपील की है।

वहीं अमेरिकी सरकार (US Govt) के नियमों के मुताबिक, जिन देशों में राज्य प्रायोजित आतंकवाद रहे हैं, वहां जन्मे वीजा आवेदकों को अलग से अधिकारियों को इंटरव्यू देना होता है। Syria की गिनती उन देशों में की जाती है, जहां आतंकवाद को राज्य प्रायोजित माना जाता है।