महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने चक्रवाती तूफान 'ताऊ ते' के मद्देनजर जिला प्रशासन, संभागीय आयुक्तों और जिला कलेक्टरों को विशेषरूप से पालघर, रायगढ़, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग के तटीय क्षेत्रों में सतर्क रहने का निर्देश दिया है।

महाराष्ट्र में 'ताऊ ते' से निपटने को लेकर पिछली रात को एक बैठक हुई। ठाकरे ने राज्य के तटीय जिलों के अधिकारियों को सतर्क और स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार रहने का निर्देश दिया है। इस बीच भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने ट्वीट कर कहा कि 'ताऊ ते' अभी लक्षद्वीप में सक्रिय है और आज इसकी गति तेज हो सकती है। 

आईएमडी ने ट्वीट किया, 'ताऊ ते' के कारण लक्षद्वीप क्षेत्र और इससे सटे दक्षिण-पूर्व और पूर्व-मध्य अरब सागर के ऊपर दबाव बन गया है। यह दक्षिण गुजरात और दीव के तटों से टकराएगा। यह 17 मई तक खतरनाक रूप ले सकता है और इस दौरान इसकी रफ्तार 150 से 160 किलोमीटर प्रति घंटे होगी।'