बिहार में पिछले दो दिनों की राहत के बाद आज सीवान जिले के रघुनाथपुर प्रखंड में दो महिलाओं के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि से राज्य में इस वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 34 हो गई। सीवान के जिलाधिकारी अमित कुमार पांडेय ने यहां दूरभाष पर दो महिलाओं के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि करते हुए बताया कि दोनों महिलाओं में से एक रघुनाथ प्रखंड निवासी उस युवक की मां और पत्नी हैं, जिसके कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि 03 अप्रैल को हुई थी।

उन्होंने बताया कि एक महिला की उम्र करीब 56 वर्ष और दूसरी की उम्र करीब 23 वर्ष है। पांडेय ने बताया कि युवक 21 मार्च 2020 को खाड़ी देश ओमान से भारत आया था। स्वाब जांच के लिए सीवान सदर अस्पताल में युवक का सैंपल लिया गया। उन्होंने बताया कि इस युवक के संपर्क में आने से दोनों महिला भी कोरोना वायरस से संक्रमित हुई हैं। युवक की मां और पत्नी दोनों रघुनाथपुर में ही रहती थीं। इनकी कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है।


जिलाधिकारी ने बताया कि जिले में इन दोनों महिलाओं को मिलाकर कुल आठ मरीज कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। इनमें से चार युवक की लगातार तीन स्वाब रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। उन्होंने बताया कि इन चार युवकों में से दो जिले के बरहरिया के, एक हसनपुरा और एक मरीज सरेया दरौली का रहने वाला है।


चारो आबूधाबी, मस्कट, शारजाह और बहरीन से सीवान लौटे हैं। वहीं, रघुनाथपुर प्रखंड के विकास पदाधिकारी (बीडीओ) संतोष कुमार मिश्र ने दूरभाष पर यहां बताया कि रघुनाथपुर के पहले संक्रमित मरीज के माता-पिता, पत्नी, दो बच्चे और भाई को 05 अप्रैल को सीवान के होटल में बने क्वारंटाइन केंद्र के अलग-अलग कमरे में रखा गया था। वहीं, उसके परिवार के 22 अन्य सदस्य को प्रखंड के पंचायत सरकार भवन में क्वारंटाइन किया गया है।


मिश्र ने बताया कि दोनों संक्रमित महिलाओं को कल पटना के नालंदा चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल (एनएमसीएच) के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया जाएगा। उन्होंने बताया कि उनके परिवार के 22 अन्य सदस्यों में से चार के सैंपल को कल जांच के लिए भेजा जाएगा।