कोराना संक्रमण से बुरी तरह प्रभावित अमेरिका में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां न्यूयॉर्क के ब्रुकलिन के फ़्लैटलैंड स्थित यूटिका एवेन्यू में पुलिस को दो ट्रक में से करीब 60 लोगों की लाशें बरामद हुई हैं। आस-पड़ोस के लोगों ने बताया कि ये ट्रक कई दिन से यहां खड़े थे और अब इनमें से बदबू आने लगी थी। बदबू आने के बाद लोगों ने पुलिस को फोन करके बताया। फ़िलहाल पुलिस ने मौतों की वजह नहीं बताई है लेकिन कोरोना संक्रमण का शक भी जाहिर किया जा रहा है।


पुलिस ने बताया कि दो ट्रकों में से 60 लाशें बरामद हुई हैं। ये दोनों रेफ्रिजरेटेड ट्रक नहीं थे इसलिए लाशें सड़ना शुरू हो गयी थीं। ये दोनों ट्रक एंड्रयू क्लेक्ली फ्यूनरल सर्विस के बाहर खड़े किये गए थे। ट्रक में भरी लाशों के कोरोना संक्रमित होने के शक से इलाके में हंगामा खड़ा हो गया। ट्रक के पास मौजूद दुकान के मालिक ने बताया कि हमें कल से ही बदबू आने लगी थी लेकिन जब हमने देखा कि ट्रक में से खून भी टपक रहा है तो पुलिस को फोन करके बुलाया गया।


इलाके में रहने वाले जॉन डीपेट्रो ने मिरर यूके से बातचीत में कहा कि कम से कम मरे हुए लोगों की इज्जत करनी चाहिए, ये जिसने भी किया है शर्मनाक है। इनकी जगह मेरे पिता या भाई भी हो सकते थे। पुलिस को छानबीन में पता चला है कि इन शरीरों को शवदाहगृह ले जाया जाना था लेकिन फ्यूनरल होम के बाहर ही इन्हें छोड़ दिया गया। पुलिस के मुताबिक इन दो ट्रकों के पास ही एक तीसरा ट्रक भी मिला है जिसमें इन लाशों को दफनाने के लिए ताबूत रखे हुए थे।


हालांकि फ्यूनरल होम के डायरेक्टर का कहना ही कि वे लाशें कुछ ही देर के लिए ट्रक में थीं। हालांकि इस दावे से उलट कुछ वीडियो भी सामने आए हैं जिसमें लोग इन ट्रक के बगल से मुंह पर रुमाल रखकर गुजर रहे हैं। इसके अलावा जब पुलिस पहुंची तो भी लाशें ट्रक में भी मौजूद थीं। लोगों ने भी कहा है कि ये ट्रक यहां हफ्ते भर से खड़े हैं और इनमें से बदबू आ रही थी। पुलिस को फोन करने वाले शख्स ने बताया कि फ्यूनरल होम होने के चलते शव होंगे इसका अंदाज़ा तो था लेकिन जिस तरह से ट्रक से खून टपक रहा था ऐसा लग रहा था कि शवों को बॉडी बैग्स में भी नहीं रखा गया है।