श्रीनगर। कश्मीर में शनिवार को आतंकवादियों के दो सहयोगी गिरफ्तार किए गए हैं। यह गिरफ्तारियां दक्षिण कश्मीर के पुलवामा और श्रीनगर जिलों में की गईं। पुलवामा के रोहमू निवासी इरफान यूसुफ डार को उसी के गांव से गिरफ्तार किया गया था, जो जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी का सहयोगी रहा है। 

यूट्यूबर शख्स की एक ही झटके में चमकी किस्मत, ब्रिटिश महिला अफसर ने की शादी

पुलिस ने एक बयान में कहा, 'उसके पास से एक एके राइफल, एक मैगजीन और 30 राउंड गोला-बारूद बरामद किया गया है।' इसी तरह की एक और कार्रवाई में विशिष्ट सूचना के आधार पर पुलिस और सीआरपीएफ की एक संयुक्त टीम ने लश्कर-ए-तैयबा/द रेसिस्टेंस फ्रंट के एक आतंकवादी सहयोगी जुनैद मुश्ताक भट को गिरफ्तार किया है। 

रात को दूसरे शख्स से बात करती थी पत्नी, हाई कोर्ट ने सुनाया ऐसा इतना बड़ा फैसला

पुलिस ने बताया कि श्रीनगर के ईदगाह इलाके के कुलगाम के निलो निवासी भट के पास से पिस्तौल बरामद हुई है। बयान में कहा गया, 'प्रारंभिक जांच में यह बात सामने आई है कि उक्त आतंकी सहयोगी श्रीनगर शहर में आतंकी घटनाओं को अंजाम देने आया था।' दोनों घटनाओं को लेकर संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

जम्मू के चार-दिवसीय दौरे पर आजाद 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री गुलाम नबी आजाद परिसीमन आयोग की अंतरिम रिपोर्ट पर विचार-विमर्श करने के लिए शनिवार को जम्मू पहुंचे। पार्टी के सूत्रों ने कहा, 'आजाद आज शाम को यहां पहुंचे। कांग्रेस के विरष्ठ नेताओं ने उनका स्वागत किया। सूत्रों ने बताया कि आजाद चार दिवसीय यात्रा के दौरान परिसीमन आयोग की अंतरिम रिपोर्ट सहित जम्मू-कश्मीर के ज्वलंत मुद्दों पर अपने समूह के सदस्यों सहित समाज के विभिन्न वर्गों के साथ बातचीत करेंगे।