चेन्नई में हवाई अड्डे से शुक्रवार को 100 करोड़ रुपये मूल्य की 15 किलोग्राम से अधिक हेरोइन जब्त की गई। इस मामले में तंजानिया के दो नागरिकों को गिरफ्तार किया गया। सीमा शुल्क विभाग के एक शीर्ष अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी। सीमा शुल्क विभाग का कहना है कि सभी दोनों आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई जारी है।

सीमा शुल्क आयुक्त राजन चौधरी ने बताया कि राजस्व खुफिया निदेशालय (DRI) से सूचना मिली थी कि अफ्रीका से भारत में मादक पदार्थ की तस्करी की जाने वाली है। पूछताछ के बाद सीमा शुल्क विभाग ने 46 वर्षीय महिला और उसके सहयोगी को गिरफ्तार किया। उन्होंने बताया कि पैकेट में हेराइन छिपाकर रखी गई थी। सीमा शुल्क विभाग द्वारा हालिया समय में सबसे बड़ी जब्ती में से यह एक है।

पता चला है कि महिला बेंगलुरु में उपचार कराने के नाम पर अपने सहयोगी के साथ भारत की यात्रा पर आई थी। बेंगलुरु की सीधी उड़ान नहीं मिल पाने के कारण दोनों चेन्नई आए थे। इससे पहले चेन्नई एयर कस्टम्स ने 21 अप्रैल को दुबई से एयर इंडिया की फ्लाइट में छिपाए गए छह किलो सोने को जब्त किया था। चेन्नई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के सीमा शुल्क आयुक्त ने एक बयान में कहा था एयर इंडिया की उड़ान को खुफिया इनपुट मिली थी कि दुबई से सोने की तस्करी होने की संभावना है।

मामले की जांच करने पर दो भारी पैकेट विमान के सीट के नीचे पाए गए। खोलने पर, प्रत्येक पैकेट में 1 किलोग्राम के छह सोने के बार बरामद हुए, जिसकी कीमत 2।90 करोड़ रुपये आंकी गई। सीमा शुल्क अधिनियम के तहत सोने को लावारिस घोषित किया गया था। सीमा शुल्क अधिनियम के तहत 2।90 करोड़ रुपये के 6 किलोग्राम सोना जब्त किया गया।