त्रिपुरा पुलिस ने चार कुत्तों के तस्करी के आरोप में दो आरोपी को अपनी हिरासत में लिया हैं। पुलिस ने बताया कि चार भारतीय नस्ल के कुत्तों को मिज़ोरम कत्लखाना में बेचने के लिए ले जाया जाया जा रहा था।

सब-इंस्पेक्टर ने संदिग्ध परिस्थितियों में कुत्तों को ले जा रहे एक वाहन को रोका और ड्राइवर और उसके साथी को अपनी हिरासत में ले लिया।

ईस्ट अगरतला के थाना प्रभारी देबाशिष साहा ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता के तहत पशुओं के प्रति क्रूरता का निवारण अधिनियम, 1960 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। फिलहाल कुत्तों को उपचार के लिए एक पशु-अनुकूल एनजीओ पॉसम को सुरक्षित रखने के लिए सौंप दिया हैं।

एनजीओ के महासचिव ऋग्वेद दत्ता ने कहा कि उन्होंने अभी तक 20 कुत्तों को तस्करी के रैकेट से बरामद किया है। उन्होंने त्रिपुरा में जानवरों के खिलाफ क्रूरता के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए भी पहल शुरू की है।