उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में कोरोना वायरस का प्रकोप थमने का नाम नही ले रहा है जिले में गुरूवार को दो हॉटस्पाट बढ़ जाने से इनकी सख्या बढ़कर 23 हो गयी है। मंडलायुक्त संजय कुमार ने गुरूवार को यहां बताया कि सहारनपुर जिले के देवबंद में कोरोना वायरस का प्रकोप तेजी के साथ फैल रहा है।


उन्होंने बताया कि मंडल के दूसरे क्षेत्रों में संक्रमित मामलों के स्वस्थ होने की दर तेज हुई है। गुरूवार को शामली में अब एक ही संक्रमित मामला बचा है। वहां चार हॉटस्पाट क्षेत्र घोषित किये गये है। उन्होंने बताया कि सहारनपुर में दो हॉटस्पाट और बढ़ जाने से उनकी संख्या अब 23 हो गई है।


उन्होंने बताया कि अस्पतालों का निरीक्षण करने और विशेषज्ञ चिकित्सकों से बातचीत से अनुमान लगाया जा रहा है कि अगले दो-तीन दिनों में 30 से 40 संक्रमितों के स्वस्थ होने की रिर्पोट आ सकती है। जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने कहा कि प्रशासन का देवबंद समेत पांच थाना क्षेत्रों जहां के सक्रिय मामले ज्यादा है, पर ज्यादा फोकस है।


उन्होंने बताया कि सहारनपुर में बिहारीगढ के गांव दातनीखोल और थाना गागलहेडी के हरोडा मुस्तकम में तो नए हॉटस्पाट बनाए गए है। उन्होंने बताया कि देवबंद में एक कंपनी आएएफ और नगर के कुतुबशेर क्षेत्र में एक पीएसी और एक आरएएफ कंपनी की तैनाती की जा रही है। देवबंद के सीएचसी प्रभारी डॉ. इंद्राज सिंह नेहरा ने बताया कि भारत चेरिटेबिल ट्रस्ट के क्वारंटाइन केंद्र में भर्ती 13 लोगों को 14 दिन की अवधि पूरी होने पर घर भेज दिया गया। देवबंद क्षेत्र के क्वारंटीन केंद्रो से अभी तक 66 लोगों की रिर्पोट निगेटिव मिली है। सभी को घर भेज दिया गया है।


सीएमओ डॉ. बीएस सोढी ने बताया कि बुधवार रात नोएडा प्रयोगशाला से 116 नमूनो की जांच रिर्पोट प्राप्त हुई थी। जिसमें 111 मामले निगेटिव मिले है। छह पॉजिटिव मामले आए जिनमें से पांच देवबंद क्षेत्र के थे। जो एक संक्रमित चालक के संपर्क में आने से संक्रमित हुए थे। उन सभी को क्वारंटाइन केंद्र से निकालकर कोविड-19 केंद्र भेज दिया गया। उन्होंने बताया कि जिले में अब 170 सक्रिय मामले है जो फतेहपुर और मिर्जापुर के कोविड-19 केंद्रों में भर्ती है।