जर्नलिस्ट युनियन आॅफ असम(जा) ने 9 मई को तेजपुर के दो पत्रकारों पर बिहागुड़ी में हुए हमलों की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए इस घटना के दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिए जाने की मांग की है। जर्नालिस्ट यूनियन आॅफ असम की इकाई शोणितपुर जर्नालिस्ट यूनियन के अनुसार दो पत्रकारों को क्रमशः अश्विनी बोरा और परश पाल बोरा पर कुछ बदमाशों ने उस समय क्रूरता से हमला कर दिया, जब वे समाचार संग्रह कर रहे थे।


जर्नालिस्ट्स यूनियन आॅफ असम ने शोणितपुर जिला प्रशासन से इस मामले की समुचित जांच कर दोषियों को सजा देने के साथ ही राज्य सरकार से पत्रकारों को सुरक्षा दिए जाने की मांग की है। मालूम हो कि इन दिनों राज्य में पत्रकारों पर हमलों की घटनाएं बढ़ती जा रही है।पिछले दिनों भी मुकालमुआ और तिनसुकिया में दो पत्रकारों पर जानलेवा हमले किए गए थे।