जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच शनिवार सुबह मुठभेड़ में मारे गए आतंकवादियों में से एक जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) का शीर्ष पाकिस्तानी आतंकवादी कमांडर और जेईएम के प्रमुख मसूद अजहर का रिश्तेदार था। पुलिस ने शनिवार दोपहर को बताया कि दक्षिण कश्मीर में मुठभेड़ में ढेर हुए आतंकियों में से एक जेईएम के प्रमुख मसूद अजहर का रिश्तेदार और पाकिस्तानी कमांडर था।

पुलिस ने कहा कि आज की मुठभेड़ में प्रतिबंधित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से जुड़ा सबसे बड़ा पाकिस्तानी आतंकवादी लंबू मारा गया। दूसरे आतंकवादी की पहचान की जा रही है। पुलिस ने कहा, मोहम्मद इस्माल अल्वी उर्फ लंबू, मसूद अजहर के परिवार का ही सदस्य था और वह फरवरी 2019 के पुलवामा आतंकी हमले की साजिश में शामिल था, जिसमें सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे।पुलिस ने कहा, मोहम्मद इस्माल अल्वी उर्फ लंबू उर्फ अदनान मसूद अजहर के परिवार से था। वह लेथपोरा पुलवामा हमले की साजिश और योजना में शामिल था और एनआईए द्वारा पेश आरोप पत्र में उसका नाम है।

इससे पहले पुलिस और सेना की एक संयुक्त टीम ने इलाके को घेर लिया और आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में विशेष जानकारी के आधार पर तलाशी अभियान शुरू करने के बाद सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच गोलीबारी शुरू हो गई। जैसे ही सुरक्षा बल उस स्थान पर पहुंचे, जहां आतंकवादी छिपे हुए थे, वे भारी मात्रा में गोलीबारी की चपेट में आ गए, जिससे मुठभेड़ शुरू हो गई। इस बीच आईजी कश्मीर, विजय कुमार ने आतंकवाद रोधी सफल ऑपरेशन के लिए सेना और पुलिस को बधाई दी है।