कोरोना वायरस के कारण देश में लॉकडाउन की लगा हुआ है। इस लॉकडाउन में कई लोग कई जगहों पर फंसे हुए हैं। केंद्र सरकार उनको निकालने के लिए पूरी कोशिश कर रही है। देश में श्रमिक मजदूरों के लिए स्पेशल और विदेश में रह रहे लोगों के लिए विमान की व्यवस्था कर रही है। विदेशों में फंसे भारतीयों को लाने के मिशन वंदे भारत का आज तीसरा दिन है।


केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने जानकारी दी है कि विदेशों से लौटे दो भारतीयों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें से एक दुबई से तो दूसरा अबू धाबी से कोच्चि आया है। इसी के साथ बता दें कि अबू धाबी से आई पहली फ्लाइट के 181 भारतीयों में से 5 लोगों में कोरोना के लक्षण मिले थे। विजयन ने जानकारी दी कि अभी केरल में कोरोना मरीजों की संख्या 505 हो गई है।


ध्यान दें कि वंदे भारत मिशन में सरकार बुजुर्गों, गर्भवती महिलाओं, बीमारों या फिर उन लोगों को प्राथमिकता दे रही है जिनके घर में किसी की मौत हो गई है या फिर कोई गंभीर रूप से बीमार है। खास बात ये हैं कि विदेश में फंसे ऐसे भारतीयों को वंदे भारत मिशन से बड़ा सहारा मिल रहा है।