कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष और सांसद राहुल गांधी का ट्विटर अकाउंट एक बार फिर खोल दिया गया है।  कांग्रेस नेता का ट्विटर अकाउंट करीब एक हफ्ते तक अस्‍थायी रूप से निलंबित रहा।  राहुल गांधी के साथ ही कांग्रेस के अन्‍य नेताओं को भी राहत देते हुए उनके अकाउंट को भी फिर से शुरू कर दिया गया है। 

बता दें कि दिल्ली में कथित दुष्कर्म और हत्या के मामले की नौ वर्षीय पीड़िता के माता-पिता से मुलाकात की तस्वीर ट्विटर पर साझा करने के मामले में राहुल गांधी के अकाउंट को निलंबित कर दिया गया था। 

कांग्रेस सूत्रों ने बताया है कि ट्विटर ने कांग्रेस के सभी नेताओं के अकाउंट को एक बार फिर से अनलॉक कर दिया है।  कांग्रेस की ओर से जानकारी दी गई है कि राहुल गांधी का ट्विटर अकाउंट को खोल दिया गया है, साथ ही पार्टी के सभी वरिष्ठ नेताओं के अकाउंट भी खुल गए हैं। 

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कल ट्विटर पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा था कि कंपनी भारत में कारोबार नहीं कर रही है, वह देश की राजनीति की दिशा तय करने का काम करने में लगी है।  राहुल गांधी ने कहा था कि एक राजनेता के तौर पर मुझे ये बिल्‍कुल भी पसंद नहीं है।  कंपनी की ओर से उठाया जा रहा इस तरह का कदम देश के लोकतांत्रिक ढांचे पर हमला है। 

उन्‍होंने कहा, ट्विटर पर मेरे 19 से 20 मिलियन फॉलोअर्स हैं।  आप उन्‍हें एक राय रखने के अधिकार से रोक रहे हैं।  यह न केवल अनुचित है बल्‍कि ये भी दर्शाता है कि ट्विटर अब अपने विचार रखने का जरिया नहीं रह गया है।  ट्विटर भी अब वही सुनता है जो केंद्र सरकार कहती है।  ये आम लोगों के लिए काफी खतरनाक बात है।  अगर ट्विटर राजनीतिक पक्ष लेने लगेगा तो यह उनके लिए ठीक नहीं है।