माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने कड़ा कदम उठाते हुए ऐसे अकाउंट्स को ब्लॉक करना शुरू कर दिया है जो कि भारत सरकार द्वारा बनाए गए नियमों का स्पष्ट उल्लंघन कर रहे हैं। ट्विटर ने सरकार की बात मानते हुए आपत्तिजनक अकाउंट्स को ब्लॉक कर दिया है। इस लिस्ट में 500 से अधिक अकाउंट शामिल हैं। 

ट्विटर ने अपनी कंपनी के उच्च अधिकारियों की संभावित गिरफ्तारी और वित्तीय पेनल्टी के डर से यह फैसला लिया है। रिपोर्ट के अनुसार कंपनी को किसानों के विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर सवालों में लगभग 1,435 अकांउट्स को अवरुद्ध करने के लिए तीन नोटिसों में आईटी मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन नहीं पर दंडात्मक कार्रवाई का सामना करना पड़ा। कंपनी ने ऐसे अकाउंट्स को ब्लॉक कर दिया है जिनमें आपत्तिजनक सामग्री पाई गई। 

रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका की माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर पिछले कुछ दिनों से काफी दवाब में है और इसके बाद यह फैसला लिया गया है। बता दें कि पिछले 10 दिनों के दौरान ट्विटर का सूचना मंत्रालय प्रोद्घोगिकी अधिनियम की धारा 69ए के तहत कई अलग-अलग ब्लॉकिंग ऑर्डर दिए गए हैं। ट्विटर ने केंद्र सरकार को यह भी आदेश दिया है कि वह इस मुद्दे पर नजर रखे हुए है। ट्विटर ने इमरजेंसी ब्लॉकिंग ऑर्डर का पालन किया है।