अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोरोना वायरस से लडऩे के लिये 8.3 अरब डॉलर के आपातकालीन पैकेज पर हस्ताक्षर किये जिसे अमेरिकी संसद ने इस बीमारी के फैलने से रोकने के लिए पिछले सप्ताह पारित किया था। अमेरिकी सीनेट ने प्रतिनिधि सभा द्वारा इसी तरह के सर्वदलीय अनुमोदन के बाद गुरुवार को इस पैकेज को पारित किया।


दोनों सीनेट और सदन के पैनल बातचीत के जरिए इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं कि इस रकम को संघीय सार्वजनिक स्वास्थ्य विभागों को टीका, जांच और कारगर इलाज के लिए मुहैया कराया जाएगा। इस योजना के तहत स्थानीय, राज्य, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वायरस के प्रसार से निपटने के लिए लगभग 7.8 अरब डालर की राशि प्रदान की जाएगी और यह चिकित्सा लाभार्थियों को टेलीहेल्थ कार्यक्रमों का उपयोग करने की अनुमति देने के लिए 50 करोड़ डॉलर का अधिकार भी देता है।


सीनेट विनियोग समिति के अध्यक्ष रिचर्ड शेबली ने गुरुवार को जारी एक बयान में कहा कि हमारे विशेषज्ञों के मुताबिक 8.3 अरब डॉलर की धनराशि की जरुरत है। गौरतलब है कि अमेरिका में अब तक इस वायरस से 12 लोगों की मौत हो गयी है और यह कम से कम 15 प्रांतों में फैल चुका है। करीब 180 से अधिक लोग इससे संक्रमित हैं।