बॉलीवुड सुपरस्टार अक्षय कुमार (Akshay Kumar) और पूर्व मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर (Manushi Chhillar) की आने वाली फिल्म पृथ्वीराज (prithviraj film) कानूनी मुसीबत में फंस गई है। इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच (Lucknow Bench of High Court) ने केंद्र सरकार से पूछा कि क्या सेंसर बोर्ड (censor board) ने फिल्म पृथ्वीराज की रिलीज के लिए सर्टिफिकेट दिया है। अदालत का यह आदेश हाल ही में एक जनहित याचिका पर आया है, जिसमें फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने की मांग की गई है। 

अदालत ने मामले की सुनवाई 21 फरवरी से शुरू होने वाले सप्ताह में तय की है। न्यायमूर्ति की एक पीठ ने करणी सेना (Karni Sena) की उपाध्यक्ष संगीता सिंह द्वारा दायर जनहित याचिका पर यह आदेश पारित किया। याचिका में फिल्म की रिलीज पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गई थी, जिसमें आरोप लगाया गया था कि यह एक हिंदू सम्राट पृथ्वीराज (Emperor Prithviraj) की गलत और अश्लील तस्वीर पेश कर रही है और इसलिए इससे भावनाओं को ठेस पहुंची है। 

याचिकाकर्ता ने कहा कि फिल्म के पूर्वावलोकन से ही पता चलता है कि यह विवादास्पद है। इस बीच कुछ महीने पहले फिल्म पृथ्वीराज चौहान (prithviraj film) के लिए राजपूत शब्द का इस्तेमाल करने के लिए मुश्किल में पड़ गई। राजस्थान में गुर्जरों ने धमकी दी कि अगर फिल्म पृथ्वीराज चौहान के लिए राजपूत शब्द का इस्तेमाल जारी रखती है तो पृथ्वीराज की स्क्रीनिंग रोक दी जाएगी। गुर्जर समुदाय ने दावा किया कि पृथ्वीराज गुर्जर समुदाय से थे और राजपूत नहीं थे। हालांकि राजपूत समुदाय (Rajput community) के नेताओं ने उनके दावे को खारिज कर दिया और कहा कि गुर्जर शुरू में गौचर थे, जो बाद में गुर्जर में परिवर्तित हो गए। बता दें कि चंद्रप्रकाश द्विवेदी द्वारा निर्देशित पृथ्वीराज मिस वर्ल्ड 2017 मानुषी छिल्लर का बॉलीवुड डेब्यू है। वह सुपरस्टार अक्षय कुमार के साथ अभिनय करती नजर आएंगी, जो महान नेता पृथ्वीराज चौहान की भूमिका निभाते हैं।