अगरतला।  त्रिपुरा में रंगदारी के मामले में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) विधायक ललित मोहन के करीबी लोगों के एक समूह का नाम सामने आने के बाद कल रात से धलाई जिले में तनाव व्याप्त है।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि इन लोगों पर एक स्थानीय ठेकेदार से पांच लाख रुपये की वसूली के लिए उसे प्रताड़ित करने का आरोप है।

पीड़ित मिथुन मजूमदार के मुताबिक गंदाचीरा के निवासी अभीजीत साहा, विश्वजीत बानिक, वारिस अली और जापेन रियांग ने गत 22 जनवरी को विधायक का नाम लेकर उसपर पांच लाख रुपये देने का दबाव डाला।

पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और आवश्यक कार्रवाई कर रही है। फिलहाल इस संबंध में अभी किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है।