पश्चिमी त्रिपुरा सीट पर 11 अप्रैल को हुए मतदान के दौरान 168 मतदान केन्द्रों पर गड़बड़ी की शिकायतों के आधार पर 12 मई को छठे चरण के मतदान में दोबारा वोटिंग होगी।

चुनाव आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि इन मतदान केंद्रों पर फिर से मतदान कराने का फैसला किया गया है।


बता दें कि आयोग द्वारा त्रिपुरा के मुख्य निर्वाचन आधिकारी (सीईओ) को मंगलवार को जारी आदेश में कहा गया था कि पश्चिमी त्रिपुरा सीट के निर्वाचन अधिकारी और पर्यवेक्षकों की रिपोर्ट में इन मतदान केन्द्रों पर गड़बड़ी की शिकायतें सही पायी गयीं।


इस रिपोर्ट के आधार पर 168 मतदान केन्द्रों पर 11 अप्रैल को हुये मतदान को रद्द घोषित किया गया है। आयोग ने त्रिपुरा के सीईओ को इन मतदान केन्द्रों पर 12 मई को सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक फिर से मतदान कराने का आदेश दिया है।