भाजपा शासित राज्य त्रिपुरा की सरकार गरीबों को लेकर एक्शन में आ चुकी है। राज्य के खादी और ग्रामोद्योग आयोग ने अगरतला में समाज के कमजोर तबके के लोगों को समर्थन देने के लिए किसानों, कुम्हारों और चर्मशिल्पकारों को अपना कामधंधा शुरू करने के लिए मधुमक्खी पालने की पेटियां, मिट्टी बर्तन बनाने के चाक, और चमड़े के सामान तैयार करने के उन्नत औजार वितरित किए हैं।

इसके लिए हाल ही में कार्यक्रम एक विशेष कार्यक्रम आयोजित किया गया। त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने इस अवसर पर उम्मीद जताई कि वितरित किये गये साजो सामान और उपकरणो तथा क्षमता विकास अभियान से 700 लोगों को रोजगार मिलेगा। उन्होंने कहा है कि 'शहद मिशन', 'चमड़ा कारीगरों का सशक्तीकरण' और 'कुम्हार सशक्तिकरण मिशन' जैसे कार्यक्रम न केवल समान के कमजोर तबके के लोगों का आत्मविश्वास बढ़ाएंगे, बल्कि उन्हें मजबूती प्रदान करने के प्रयासों को जरूरी बढ़ावा देंगे।

केवीआईसी ने कहा है कि उपकरण वितरण के लाभार्थियों में से लगभग 20 प्रतिशत महिलाएं थीं, और कुल लाभार्थियों में से लगभग 80 प्रतिशत गरीब और सीमांत परिवारों के हैं।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360