एक एक बड़ा ट्रेन  हादसा गया , नहीं तो 1145 जवानों को लेकर जा रही एक ट्रेन में आग लग गई। बताया जा रहा है की ट्रेन चुनाव ड्यूटी में लगे जवानों को लेकर त्रिपुरा जा रही थी तभी अचानक एक बोगी में आग लग गई। 

त्रिपुरा जा रही चुनाव स्पेशल ट्रेन के कोच संख्या 95117 (थर्ड एसी) के एसी पैनल में रविवार की सुबह शार्ट सर्किट से आग लग गई। इससे ट्रेन में सवार जवानों के बीच अफरा-तफरी मच गई। शीघ्र ही घटना की सूचना टाटानगर स्टेशन निदेशक एचके बालमुचू को दी गई। 

जैसे ही ट्रेन टाटानगर स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर पांच में पहुंची, इलेक्ट्रिकल विभाग के अधिकारियों सहित वाणिज्य पदाधिकारी एकके पति, अनुपम डे, सीआई शंकर कुमार झा, आरपीएफ थाना प्रभारी एमके सिंह मौके पर पहुंच गए। ट्रेन में रखे अग्निशमन यंत्र की मदद से आग पर काबू पा लिया गया।

करीब 45 मिनट तक ट्रेन टाटानगर स्टेशन में खड़ी रही। बाद में इस कोच के बिजली कनेक्शन को काट कर ट्रेन को आगे रवाना किया गया। खड़गपुर में इस ट्रेन को रोक कर कोच की मरम्मत करने के निर्देश दिए गए थे। जरूरत पड़ने पर पूरा कोच बदलने का निर्देश टाटानगर से निर्गत किया गया। इस ट्रेन के सभी बोगी थर्ड एसी के थे। बालमुचू ने बताया कि आग शॉर्ट सर्किट के कारण लगी थी।

रविवार की सुबह फोन पर स्टेशन निदेशक सहित अन्य अधिकारियों को सूचना मिली कि चुनाव ड्यूटी में जा रही स्पेशल ट्रेन के कोच में आग लग गई है। आग लगने की सूचना पर टाटानगर स्टेशन के अधिकारी तुरंत हरकत में आए। जैसे ही ट्रेन स्टेशन पहुंची, आग बुझाने की कोशिश शुरू कर दी गई। आधे घंटे में आग पर काबू पा लिया गया।

स्टेशन में ट्रेन से जवान उतर गए थे। ट्रेन में कुल 1145 जवान चुनाव ड्यूटी के लिए सफर कर रहे थे। यह जवान पुणे से उदलपुर (त्रिपुरा) चुनाव ड्यूटी में जा रहे थे। ट्रेन में स्पेशल रिजर्व पुलिस फोर्स के जवान मौजूद थे। यह जवान गुजरात व महाराष्ट्र के थे।