तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और कामरहाटी विधानसभा क्षेत्र से पार्टी के उम्मीदवार मदन मित्रा सारदा चिटफंड घोटाले की जांच के सिलसिले में शुक्रवार को कोलकाता में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के दफ्तर में पेश हुए। मित्रा ने कहा, ‘‘पहले भी, मैंने जांच के संबंध में ईडी अधिकारियों के साथ सहयोग किया था। मैं अब भी उनके साथ सहयोग करूंगा। उन्होंने मुझे फोन किया और कुछ दस्तावेज मांगे। मैं यहां सभी दस्तावेज लेकर आया हूं जो मैंने पहले जमा किए थे।’’

इससे पहले, मित्रा को 18 मार्च को ईडी कार्यालय में पेश होने के लिए कहा गया था, लेकिन तृणमूल नेता अपने मौजूदा चुनाव प्रचार के कारण निर्धारित तिथि पर पेश होने में विफल रहे। कोलकाता की जोरसांको विधानसभा सीट से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार विवेक गुप्ता को भी जांच एजेंसी ने तलब किया। वह शुक्रवार को ईडी दफ्तर में पेश हुए।

इस बीच, ईडी ने सारदा घोटाले के सिलसिले में राज्य के मुख्य सुरक्षा सलाहकार सुरजीत कर पुरकायस्थ को एक समन नोटिस जारी किया। सूत्रों ने कहा कि पुरकायस्थ को पूछताछ के लिए 25 मार्च को ईडी कार्यालय में पेश होने के लिए कहा गया है।