अब आप ATM में जाने से पहले अपना बैंक अकाउंट चेक कर लें, अन्यथा पैसे नहीं होने पर बड़ा चार्ज देना पड़ेगा। अब खाते में बैलेंस कम होने और ट्रांजैक्शन फेल होने पर आपको चार्ज देना होगा। देशभर में बैंक अलग—अलग चार्ज वसूलते हैं जो इस प्रकार है—

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में ATM से ट्रांजैक्शन फेल होने पर आपको 20 रुपये और GST अलग से चुकाना होगा। SBI अपने ग्राहकों को हर महीने 5 ट्रांजैक्शन फ्री देता है, अगर आप दूसरे बैंक में SBI ATM का इस्तेमाल करते हैं तो 3 ट्रांजैक्शन फ्री है। इसके ऊपर हर ट्रांजैक्शन पर आपको 10 रुपये प्लस GST देना होगा, दूसरे बैंक के लिए ये 20 रुपये प्लस GST है।

ICICI Bank खाते में कम बैलेंस होने पर असफल हुए ट्रांजैक्शन पर प्रति ट्रांजैक्शन 25 रुपये शुल्क वसूलता है। HDFC Bank बैंक कहीं भी ATM का इस्तेमाल करते हैं और कम बैलेंस की वजह से ट्रांजैक्शन फेल होता है तो ग्राहकों को 25 रुपये चार्ज देना होगा, GST अलग से चुकाना होगा। HDFC Bank के ATM में भी 5 ट्रांजैक्शन फ्री होते हैं, जबकि दूसरे बैंक के ATM में 3 ट्रांजैक्शन फ्री हैं। इसके बाद 20 रुपये चार्ज लगता है, जिसमें टैक्स शामिल नहीं है।

आईडीबीआई बैंक का कोई ग्राहक दूसरे बैंक के ATM से पैसे निकालता है और कम बैलेंस के कारण ट्रांजेक्शन फेल हो जाता है तो हर फेल ट्रांजेक्शन के लिए 20 रुपए चार्ज देना होगा, इसमें टैक्स अलग से देना होगा। यस बैंक भी बैलेंस कम होने पर 25 रुपए चार्ज वसूलता है।

निजी क्षेत्र के बैंक कोटक महिंद्रा बैंक और एक्सिस बैंक बैंक खाते में पैसा नहीं होने पर एटीएम से निकासी असफल होने पर 25 रुपये प्रति ट्रांजैक्शन शुल्क वसूलते हैं।