मुंबई क्राइम ब्रांच ने एक टॉप मॉडल और एक नामी टीवी अभिनेत्री को जुहू के एक पांच सितारा होटल से पकड़ा। हालांकि जांच टीम ने इन दोनों को गिरफ्तार नहीं दिखाया, बल्कि रेस्क्यू बताया है। इस केस में ईशा खान नामक एक महिला दलाल को अरेस्ट दिखाया गया है। सीनियर इंस्पेक्टर मनीष श्रीधनकर ने बताया कि पूछताछ में ईशा खान ने बताया कि वह इस सेक्स रैकेट को पिछले कई साल से चला रही थी। डीसीपी दत्ता नलावडे को किसी ने जब ईशा खान के बारे में टिप दी, तो उन्होंने अपनी टीम को अलर्ट किया।

फौरन ईशा खान से क्राइम ब्रांच के एक अधिकारी ने फर्जी ग्राहक बनकर कॉल किया। कहा, कि मेरे और मेरे दोस्त को टॉप मॉडल्स चाहिए हैं। ईशा खान ने कई फोटो वॉट्सऐप पर भेजे। क्राइम ब्रांच अधिकारी ने दो लड़कियों के फोटो सेलेक्ट किए। इनमें एक ने कई विज्ञापनों में काम किया है और दूसरी ने कई टीवी धारावाहिकों में अभिनय किया है। ईशा खान ने प्रति लड़की का दो घंटे का दो लाख रुपये का सौदा तय किया। इन दो लाख रुपये में खान को 50 हजार रुपये दिए जाने की बात थी, जबकि जिन दो लड़कियों को सेलेक्ट किया गया था, ग्राहकों से मिली रकम से उन्हें डेढ़-डेढ़ लाख रुपये ईशा खान द्वारा दिए जाते।

फर्जी ग्राहक बने क्राइम ब्रांच अधिकारी ने सौदे के लिए हां कर दी। जुहू का होटल भी बुक करा दिया गया। गुरुवार रात जैसे ही महिला दलाल और मॉडल व अभिनेत्री उस होटल के बाहर पहुंचे, क्राइम ब्रांच टीम ने उन्हें अपनी गिरफ्त में ले लिया। मॉडल और टीवी अभिनेत्री ने बताया कि कोरोना की वजह से लगे लॉकडाउन के कारण विज्ञापनों और टीवी धारावाहिकों की शूटिंग बंद थी। इसलिए वह इस धंधे में आईं।