स्वस्थ नागरिक ही स्वस्थ असम का निर्माण कर सकते है । इसलिए हम हमेशा से स्वास्थ्य सेवा पर अधिक ध्यान देते आए हैं । इसी के तहत राज्य वासियों को कैंसर जैसी बीमारियों का इलाज राज्य में ही उपलब्ध कराने हेतु राज्य सरकार 19 नए कैंसर अस्पतालों के निर्माण करने जा रही है ।

पूर्वोत्तर के फुटबॉल खिलाडियों के लिए विश्वस्तरीय अकादमी खोलेगा टाटा ट्रस्ट

इसके लिए राज्य सरकार को करीब 2 हजार करोड़ रुपए की आवश्यकता है, जिसमें से 900 करोड़ रुपए का अनुदान हमें टाटा ट्रस्ट ने प्रदान किया है तथा केंद्र सरकार ने 180 करोड़ रुपए का अनुदान दिया है । 

डॉ. हिमंत विश्व शर्मा ने इन कैंसर अस्पतालों की आधारशिला रखने के अवसर पर कहा कि इन अस्पतालों का निर्माण कार्य करीब 24 महीने में पूरा कर लिया जाएगा । इन अस्पतालों से रोगी स्थानीय चिकित्सकों के साथ ही बाहरी चिकित्सकों से भी अपना परामर्श ले पाएंगे । उन्होंने बताया कि इस प्रकार का सहयोग टाटा ट्रस्ट न केवल असम को बल्कि समग्र पूर्वोतर को अपना सहयोग देगी । 

टाटा ने उठाया असम से कैंसर सफाए का बीड़ा, खुलेंगे 17 कैंसर केयर केंद्र

उन्होंने आगे कहा कि विधानसभा के चुनाव के वक्त भाजपा सरकार ने राज्यवासियों से वादा किया था कि असम में कैंसर, हदय रोगी, किडनी आदि के रोगियों को नि:शुल्क सेवा प्रदान की जाएगी, इसी के तहत हमने राज्य में बीते 20 अप्रैल के उपराष्ट्रपति वैंकया नायडू के हाथों अटल अमृत अभियान योजना का शुभारंभ किया था ।

असम में टाटा ट्रस्टों के समर्थन से जल्द खुलेंगे कैंसर शोध केंद्र

 इसके अंतर्गत पिछले 28 दिनों में 92 प्रतिशत लोगों ने कैंसर, किडनी आदि के इलाज का लाभ उठाया है । इस पर राज्य सरकार ने 7 करोड़  रुपए खर्च किए हैं । इस अवसर पर भाजपा के राष्टीय अध्यक्ष अमित शाह ने पूर्वोतर को ' विकास के निम्नतम स्तर' तक लाने के लिए आज कांग्रेस की निंदा की और कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ' दूरदर्शी नीतियों' के कारण देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में पूर्वोतर राज्य सबसे बड़ा योगदानकर्ता बनेंगे । 

शाह ने टाटा ट्रस्ट के साथ साझेदारी में राज्य में 19 कैंसर केयर अस्पतालों की  आधारशिला रखने के बाद कहा कि स्वतन्त्रता के समय पूर्वोतर की बहुत ऊंची वृद्धि दर थी, लेकिन क्षेत्र में ज्यादातर समय कांग्रेस का शासन रहा है और इनके शासनकाल में विकास निम्नतम स्तर तक पहुंच गया । उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री 'एक्ट ईस्ट' नीति के माध्यम से क्षेत्र के विकास पर ध्यान केंद्रित कर  रहे हैं । शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने काफी व्यापक एवं प्रभावी स्वास्थ्य नीति बनाई थी जिससे देश के 50 करोड़ लोगों को  फायदा मिलेगा ।  

इस मौके पर टाटा ट्रस्ट के अध्यक्ष रतन टाटा ने अपने संबोधन में कहा  कि पूर्वोतर में सबसे अधिक कैंसर के मामले देखे गए हैं । इस वजह से इस क्षेत्र पर अधिक ध्यान देने की जरूरत है । उन्होंने यह भी कहा कि केंद्र व राज्य सरकार की यह अच्छी पहल है कि 19 कैंसर अस्पताल के निर्माण का काम हाथ में लिया है तथा मुझे इसका हिस्सा बनने का अवसर प्रदान किया है । 

मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने 19 अस्पतालों के निर्माण में सहयोग के लिए प्रधानमंत्रो और रतन टाटा के धन्यवाद दिया । इस अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के अलावा अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडु रेल राज्यमंत्री राजेन गोहईं मंत्री पीयूष हजारिका समेत अन्य आला अधिकारी एवं वरिष्ट चिकित्सक उपस्थित थे ।