स्नान-दानादि की विशाखा नक्षत्रयुता वैशाखी पूर्णिमा। अन्वाधान। बुद्ध पूर्णिमा। बुद्ध परिनिर्वाण दिवस। वैशाख मासीय व्रत-यम-नियमादि समाप्त। सौर (वृष) ज्येष्ठ मास आरम्भ। सूर्य उत्तरायण। सूर्य उत्तर गोल। ग्रीष्म ऋतु। प्रात: 7.30 बजे से प्रात: 9 बजे तक राहुकालम्। पं. वेणीमाधव गोस्वामी के अनुसार, 16 मई, सोमवार, 26 वैशाख (सौर) शक 1943, 1 ज्येष्ठ मास प्रविष्टे 2079, 14 शव्वाल सन् हिजरी 1443, वैशाख पूर्णिमा प्रात: 9.44 बजे तक उपरांत ज्येष्ठ कृष्ण प्रतिपदा, विशाखा नक्षत्र मध्याह्न 1.18 बजे तक तदनंतर अनुराधा नक्षत्र, वरीयान योग प्रात: 6.17 बजे तक उपरांत परिघ योग रात्रि 2.31 बजे तक तदनंतर शिव योग, बव करण, चंद्रमा 7.54 बजे तक तुला राशि में उपरांत वृश्चिक राशि में।

यह भी पढ़े : Rashifal: आज लगेगा साल का पहला चंद्रग्रहण, इन राशि वालों की चमकेगी किस्मत , भगवान शंकर की करें पूजा


व्रत एवं त्योहार

बुध्द पू्र्णिमा

यह भी पढ़े : Chandra grahan 2022: बुद्ध पूर्णिमा के दिन लगेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, इन तीन राशियों के खुलेंगे भाग्य


सूर्य और चंद्रमा का समय

सूर्योदय - 5:30 AM

सूर्यास्त - 7:06 PM

चन्द्रोदय - May 16 6:19 PM

चन्द्रास्त - May 17 05:24 AM

आज के शुभ काल

अमृत काल - 01:28 AM - 09:38 AM

अभिजीत मुहूर्त - 11:50 AM - 2:54 AM

विजय मुहूर्त - 02:34 PM – 03:228 PM

सर्वार्थ सिद्धि योग - 01:18 AM – 05:29AM

आज के अशुभ काल

राहुकाल प्रात: 7.30 बजे से प्रात: 9 बजे तक। 

यमगंड सुबह 10:30 बजे से दोपहर 12 बजे तक रहेगा। 

इसके अलावा दुर्मुहूर्त दोपहर 12:45 बजे से दोपहर 1:39 बजे तक रहेगा।