पिछले कुछ दिनों से लगातार सोने के भाव गिरे हैं, अगर पिछले एक सप्ताह की बात करें तो, मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में सोने की कीमत 2000 रुपए प्रति 10 ग्राम से अधिक टूट गई है। ऐसे में सस्ता सोना खरीदने का यही मौका है।

कमोडिटी एक्सपर्ट की मानें तो जुलाई के बाद सोना महंगा होगा, ऐसे में निवेश के लिहाज से आपको मोटा रिटर्न मिलेगा, लेकिन खरीदारी आपको महंगा पड़ेगा। एक्सपर्ट बताते हैं कि कीमती धातु की कीमत में गिरावट अस्थायी है और सोने के निवेशकों को इस गिरावट को खरीदारी के अवसर के रूप में देखना चाहिए। सर्राफा विशेषज्ञों के मुताबिक, सोने की कीमत जल्द ही पलट जाएगी और ट्रेंड रिवर्सल के बाद एक महीने में 48,500 रुपए प्रति 10 ग्राम तक पहुंच जाएगी।

सोने की कीमत एक महीने में अपने सबसे निचले स्तर पर पहुंच आई है। वहीं चांदी में तेजी दर्ज की गई है। दुनिया भर के बाजारों में कीमतों में गिरावट के बीच भारतीय बाजारों में सोने की कीमतों में गिरावट देखी जा रही है। शुक्रवार को 10 ग्राम 22 कैरेट सोने की कीमत 47,410 रुपये से घटकर 47,350 रुपये पर आ गई। वहीं अगर चांदी की बात की जाए तो इसके रेट 70,300 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई है। ऐसे ही 24 कैरेट सोने का भाव शुक्रवार को 60 रुपये प्रति 10 ग्राम की गिरावट के साथ 48,350 रुपये पर आ गया, जो पिछले कारोबारी सत्र में 48,410 रुपये था। बता दें कि सोने के रेट अभी भी रिकॉर्ड हाई से 9,000 रुपये तक सस्ता चल रहा है। बता दें पिछले साल अगस्त में सोने का भाव 56,000 रुपये प्रति 10 ग्राम से ऊपर गया था।