कोरोना के मामले इतनी तेजी से फैलते जा रहे हैं कि देश में एक बार फिर से भीड़-भाड़ वाली जगहों पर बंद करने का सिलसिला जारी हो गया है। तमिलनाडु के तंजावुर का बड़ा मंदिर बृहदेश्वर मंदिर और कैलासनाथर मंदिर समेत दूसरे स्मारक 15 मई तक बंद रहेंगे।

हालांकि, मंदिरों में भक्तों को अनुमति नहीं दी जाएगी, लेकिन पूजा होती रहेगी। इसके अलावा, राज्य की राजधानी में मामल्लपुरम स्मारक और संग्रहालय भी शुक्रवार से 15 मई तक बंद रहेंगे। बता दें कि तमिलनाडु में 411 एएसआई स्मारक हैं। इनमें से 80 स्मारक में पर्यटक घूमने जाते हैं। शुक्रवार से सभी टिकट वाले और बिना टिकट वाले स्मारक बंद हो जाएंगे।

राज्य में कोरोनावायरस महामारी की दूसरी लहर के चलते ममल्लापुरम में टिकट वाले स्मारकों के संग्रह में भारी गिरावट आई है। चेन्नई में विश्व धरोहर स्थल में शनिवार और रविवार को मुश्किल से 1,000 पर्यटक आये, जबकि यहां छुट्टियों में 7,000 से अधिक पर्यटक आते थे। एएसआई द्वारा संचालित स्मारकों को पिछले साल मार्च में कोविड के मामले बढऩे के बाद बंद कर दिया गया था और कुछ को सितंबर में और अन्य को दिसंबर 2020 में फिर से खोला गया था।