पश्चिम बंगाल के भवानीपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव होने वाले हैं। बंगाल की सत्ता बचाने के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपनी जीजान झोंक रही है दूसरी और भाजपा अपनी सत्ता बनाने के लिए कई तरह के पेतरे अपना रही है। इसी बीच दोनों पार्टियां आमने-सामने है। दोनों के बीच तगड़ वॉर चल रहा है।

इस वॉर में तृणमूल कांग्रेस (TMC) सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भाजपा को जुमला पार्टी का करार दिया है।वहीं दूसरी ओर भाजपा ने ममता बनर्जी को नॉन MLA CM कहा है।


जानकारी के लिए बता दें कि सीएम ममता के लिेए यह चुनाव बहुत महत्वपूर्ण है। अगर वह यह उपचुनाव हार जाती हैं तो उन्हें सीएम पद से इस्तीफा देना पड़ जाएगा।

ममता बनर्जी ने एक जनसभा के दौरान कहा कि '' भाजपा देश की सबसे बड़ी जुमला पार्टी है। इसमें केवल झूठ और नफरत है। यदि आप उनके खिलाफ बोलते हैं, तो वे केंद्रीय एजेंसियों को आपके खिलाफ खड़ा कर देंगे। वे (भाजपा) एक नाचते हुए अजगर की पार्टी हैं, जो सीएए, एनआरसी और एनपीआर के नाम पर नागरिकता की सूची से आपका नाम हटा देंगे।”

प्रतिपक्ष के नेता शुवेंदु अधिकारी ने ममता को बताया नॉन MLA CM बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष के नेता शुवेंदु अधिकारी ने चुनाव के बाद व्यापक हिंसा की खबरों का हवाला देते हुए टीएमसी प्रमुख को राज्य में उनके अपने ट्रैक रिकॉर्ड की याद दिलाई। उन्होंने कहा, “आपने उन लोगों को उकसाया जिन्होंने हमारे कार्यकर्ताओं पर हमला किया और टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा हिंसक कृत्यों का समर्थन किया। आपने लोगों को मारने दिया, दुकानों में तोड़फोड़ की और हमने आपसे बार-बार अपील की, इसके बावजूद आपने कुछ नहीं किया। आप शांति बैठक में शामिल होने के लायक नहीं हैं।'