अगर आप अपने लिए पुराना स्मार्टफोन खरीदने की सोच रहे हैं तो जरा सावधान हो जाएं। क्योंकि नए स्मार्टफोन की तुलना में पुराना स्मार्टफोन खरीदना मुश्किल है। सेकंड हैंड स्मार्टफोन से आप अपनी पसंद का वो स्मार्टफोन खरीद सकते हैं, जिसका नया मॉडल आपके बजट से बाहर है। पुराना फोन खरीदते वक्त कुछ सावधानियां बरतना जरूरी है।

अगर आप कोई पुराना फोन खरीद रहे हैं तो सभी फीचर्स और स्पेसिफिकेशन को देखने के बाद उसका बिल भी जरूर लीजिए। कई बार क्या होता है कि आपको चोरी का फोन दिया जा सकता है, इसलिए फोन चोरी का है या नहीं यह पता करने के लिए फोन के बिल की मांग करना बहुत जरूरी है। फोन के बिल के साथ-साथ उसका बॉक्स और अन्य एक्सेसरीज जैसे कि चार्जर और हैंड्सफ्री आदि भी लीजिए।

अगर आप कोई पुराना स्मार्टफोन खरीद रहे हैं तो उस दौरान उसकी कंडीशन पर भी ध्यान देना चाहिए। कोई भी फोन खरीदने से पहले उसके स्पीकर और चार्जिंग पोर्ट को भी चेक कीजिए। इसी के साथ आपको फोन के चारों कॉर्नर पर भी ध्यान देना चाहिए। अगर फोन पर कवर लगा हुआ है तो कवर को उतार कर उसे पूरी तरह चेक करना चाहिए। जब पूरी संतुष्टि हो जाए तो उसके बाद भी भुगतान करके उसे खरीदना चाहिए।

कई बार क्या होता है कि पुराने फोन पर डुप्लीकेट स्क्रीन लगाकर बेच दिया जाता है, जिसकी पहचान करना आम इंसान के बस की बात नहीं है। अगर आप कोई पुराना फोन खरीद रहे हैं तो उसकी डिस्प्ले की जांच जरूर करनी चाहिए। आप स्क्रीन को अपनी उंगलियों से टच करके देख सकते हैं, उस पर टाइपिंग करके देख सकते हैं, क्योंकि फोन के साथ आने वाली ओरिजिनल डिस्प्ले अच्छे से काम करती है, लेकिन लोकल डिस्प्ले वैसे परफॉर्मेंस नहीं देती है। इस प्रकार आप डिस्प्ले का टच स्टेटस चेक कर पाएंगे। अगर आपको टच में दिक्कत आ रही है तो आप उसे किसी एक्सपर्ट या फोन मैकेनिक से चेक करवा सकते हैं और जब आपको लगे कि यह बिलकुल सही है तो उसके बाद ही खरीदारी कीजिए।

आज के समय में स्मार्टफोन में आने वाला कैमरा काफी अहम भूमिका निभाता है। इसलिए पुरान स्मार्टफोन खरीदने से पहले उसके कैमरे को भी चेक करना चाहिए। इसके लिए आपको कई एंगल और लाइट में अलग-अलग फोटो क्लिक कीजिए और फिर देखिए कि फोटो में कुछ ब्लर या खराबी तो नहीं आ रही है। अगर आपको कैमरे की क्वालिटी ठीक लगती है तो उसके बाद ही फोन खरीदना चाहिए।