TikTok की पैरेंट कंपनी ByteDance एकबार फिर से भारत में एंट्री कर सकती है। इस वजह से माना जा रहा है इसकी एंट्री के साथ भारत में फिर से TikTok की एंट्री हो सकती है। हालांकि, भारत में TikTok फिलहाल बैन है। 

यह भी पढ़ें : प्रतिबंधित संगठन उल्फा (आई) से माफी मांगने वाले असम के मंत्री को हिमंता सरमा की बड़ी चेतावनी

एक रिपोर्ट के अनुसार ByteDance भारत में अपने लिए पार्टनर खोज रहा है। कंपनी वैसे पार्टनर की तलाश कर रही है जो इसे देश में रिलॉन्च होने और फिर से पुराने और नए कर्मचारियों को हायर करने  में मदद करे। 

गौरतलब है कि भारत सरकार ने साल 2020 में TikTok को बैन कर दिया था। इससे ByteDance देश से बाहर हो गया था। इस पर आरोप था ये चीन के साथ डेटा को शेयर करता है। रिपोर्ट में बताया गया है कि ByteDance इसके लिए Hiranandani Group से बातचीत कर रहा है। 

ये कंपनी Yotta Infrastructure Solutions के जरिए पहले से डेटा बिजनेस सेंटर में है। TikTok की पैरेंट कंपनी भारत में फिर से ऑपरेट होने के लिए लोकल सॉल्यूशन की तलाश कर रही है। अगर ऐसा होता है तो भारत में लगभग दो साल बाद TikTok की फिर से वापसी हो जाएगी। 

रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि, इसको लेकर बातचीत फिलहाल फॉर्मल स्टेज में नहीं पहुंची है। लेकिन, केंद्र को इसके बारे में पता है। इस वजह से अप्रूवल के लिए पहले वो बिजनेस मॉडल को देखेगी। पार्टनरशिप मॉडल ByteDance के लिए भारत में एंट्री का सबसे बढ़िया तरीका है। 

यह भी पढ़ें : हिमंता सरमा का बड़ा बयानः 2024 के चुनावों के बाद प्रमुख विपक्षी दल का टैग खो देगी कांग्रेस

इससे कंपनी लोकल रेगुलेशन को फॉलो करेगी। जिसमें यूजर्स के सभी डेटा को देश में ही होस्ट करना होगा। Krafton ने भी इस तरह की पॉलिसी को अपना कर पबजी मोबाइल को नए नाम के साथ भारत में रिलॉन्च किया था। टिक-टॉक भी नए नाम के साथ भारतीय मार्केट में आ सकता है।