बहराइच। उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले के एक जंगल में एक बाघ ने 57 वर्षीय किसान की हत्या कर दी। अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी। उनके मुताबिक घटना बुधवार शाम कतर्नियाघाट वन्यजीव अभयारण्य के भरतपुर गांव के पास हुई।

ये भी पढ़ेंः ये हैं भारत के 5 सबसे गरीब राज्य, 2 का नाम जानकर नहीं होगा यकीन


पीडि़त घनश्याम राजभर घास काट रहे थे, तभी बाघ ने उन पर हमला कर दिया। संभागीय वन अधिकारी (डीएफओ) आकाशदीप बधावन ने कहा कि आसपास काम करने वाले ग्रामीणों ने शोर मचाया, जिसके बाद बाघ जंगल में भाग गया।

घायल को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां उनकी मौत हो गई। डीएफओ ने कहा कि मानव-वन्यजीव संघर्ष के कारण मृत्यु के मामलों में 5 लाख रुपये की वित्तीय सहायता का प्रावधान है। उन्होंने कहा, हालांकि, जंगल के प्रतिबंधित कोर क्षेत्र में घास काटना प्रथम ²ष्टया संज्ञेय अपराध है।

ये भी पढ़ेंः CM नीतीश ने द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाये जाने पर व्यक्त की प्रसन्नता, जानिए क्या कहा

उन्होंने कहा कि इस मामले में मुआवजे पर फैसला वन विभाग के नियमानुसार लिया जाएगा। इस बीच, विश्व वन्यजीव कोष (डब्ल्यूडब्ल्यूएफ) की टीमों का गठन किया गया है और दो प्रशिक्षित हाथी इलाके की तलाशी में लगे हुए हैं।