होजाई । गत 20 वर्षों तक 10 नं. नगांव लोकसभा सीट भाजपा के सांसद राजेन गोहाई के कब्जे में थी । जबकि इस वर्ष राजेन गोहाई के ऊपर  महिला कसे के चलते भाजपा ने उम्मीदवारी से दूर कर दिया । जिसको लेकर गोहाई समर्थन में काफी रोष व्याप्त देखा जा रहा है । वहीं 10 न. नगांव लोकसभा से भाजपा ने रूपक शर्मा  को अपनी उम्मीदवार घोषित कर चुनावी मैदान में उतारा है । 

साथ ही नगांव लोकसभा सीट से कांग्रेस ने प्रधुत बरदलै को अपने उम्मीदवार के रूप में चुनावी मैदान में उतारा है । अब देखना है कि नगांव में भाजपा व कांग्रेस के बीच वोटर किसको अपनी नेता चुनते हैं । 10 नं.  लोकसभा के भाजपा उम्मीदवार ने गत कल होजाई  पुराना बजार स्थित कावेरी होटल के समीप 10 नं. लोकसभा के भाजपा उम्मीदवार रूपक शरमा की चुनामी सभा का आयोजन किया गया था । 

उक्त चुनावी सभा का आयोजन होजाई भाजपा टाउन यूव मंडल की अगुवाई में आयोजन किया गया था जिसका सभापतित्व किया होजाई भाजपा टाउन मंडल सभापति प्रांजल राय ने । जहां उपस्थित 10 नं. लोकसभा के  उम्मीदवार रूपक शर्मा व होजाई  विधायक शिला दित्य देव के साथ उपास्थि रहे होजाई जिला भाजपा सभापति अर्जुन मजूमदार के साथ उपस्थित रहे होजाई के जेस्ट भाजपा कार्यकर्ता देवाशीष दत्त। 

उक्त चुनावी  सभा को संबोधित करते हुए नगांव लोकसभा के भाजपा उम्मीदवार रूपक शर्मा ने कहा कि हम 10 नं. नगांव लोकसभा सीट से नामांकन भरने के पश्चात होजाई में की चुनावी  सभा का आयोजन कर चुनाव प्रचार में उतारा हूं। क्योंकि भाजपा को होजाई  जिला में ही सबसे ज्यादा वोट  मिलता है। इसीलिए हमने अपना चुनाव प्रचार होजाई से ही प्रारंभ किया है । होजाई के लोगों से मिलकर मुझे बहुत आनंद महसूस हो रहा है।  साथ ही रूपक शर्भा ने उपस्थित सभी लोगों  से अपील भी किया है कि वे अगर 10 नं. लोकसभा सीट से विजयी होते हैं तो ज्यादा नजर होजाई जिले पर रखेंगे ।

उक्त सभा में उपस्थित होजाई  विधायक शिला दित्य देव ने चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस व एआईयूडीएफ को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि गत 2014 की लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी का नारा था कि कांग्रेस मुक्त भारत बनाना है । ठीक आज होजाई  ही नहीं बल्कि  पूरे 10 नं नगांव लोकसभा क्षेत्र में कांग्रेस का कोई ऐसा नेता नहीं है जिसके चलते कांग्रेस को नगांव लोकसभा चुनाव के लिए नगांव से बाहर से लाना पड़ा । साथ की विधायक शिलादित्य ने कांग्रेस के साथ ही  एआईयूडीएफ के ऊपर गरजते हुए कहा कि बदरूदीन अजमल ने घर्म को लेकर राजनीति करने का आरोप लगाया ।