बड़ी खबर बिहार के बेतिया अनुमंडल क्षेत्र से है, जहां ट्रेन से कटकर तीन महिलाओं की मौत हो गई।  इस घटना के बाद मौके पर अफरा-तफरी मच गई और आनन-फानन में पुलिस को मामले की जानकारी दी गई।  इसके बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर जांच में जुट गई है।  घटना बेतिया-नरकटियागंज रेलखंड पर महनाकुली ढाला के पास की है।  चनपटिया और बेतिया रेलवे स्टेशन के बीच महना ढाला से लगभग 200 मीटर दूरी पर यह हादसा उस वक्त हुआ जब आनंद विहार से मुज्जफ्फरपुर जा रही सप्तक्रांति सुपरफास्ट ट्रेन वहां से गुजरी। 

मृतकों में दो लड़कियां और एक विवाहिता शामिल हैं।  अनुमान लगाया जा रहा है कि हादसे में मरी दो लड़की और महिला आपस में मां व बेटी हैं, लेकिन घटना क्यों और कैसे हुई इसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी है।  मामले की जांच के लिए पहुंची पुलिस तीनों की पहचान करने में जुट गई है।  फिलहाल मृतकों की पहचान नहीं की जा सकी है।  स्थानीय लोगों ने पुलिस को मामले की जानकारी दी, जिसके बाद चनपटिया रेल थाना की पुलिस और चनपटिया थाना की पुलिस ने तुरंत घटनास्थल पर पहुंचकर तीनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जीएमसीएच अस्पताल भेज दिया। 

 

पुलिस ने बताया कि फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।  महना रेलवे फाटक पर तैनात गेटमैन ने बताया कि दो लड़की और एक महिला पहले से ही झाड़ी में छिपकर बैठी हुई थीं और जैसे ही ट्रेन आई तीनों ने ट्रेन के आगे छलांग लगा दी।  आशंका जताई जा रही है कि तीनों ने एक साथ आत्महत्या की है।  स्थानीय लोगों ने भी बताया कि ट्रेन आने के साथ ही तीनों ट्रेन की तरफ बढ़ रही थीं, जिन्हें एक साइकिल सवार ने देखा और रोकना चाहा, लेकिन तब तक हादसा हो चुका था।  बहरहाल इस घटना के बाद से इलाके में सनसनी मच गई है।