घाटी में दहशत फैलाने की कोशिश कर रहे तीन आतंकी सुरक्षाबलों की गोलियों का निशाना बन गए। पुलवामा में एक ही दिन में दो मुठभेड़ हुईं, जिसमें सुरक्षाबलों ने बड़ी सफलता हासिल करते हुए त्राल में तीन आतंकियों को मार गिराया। वहीं इसी जिले के लेलहर इलाके में छिपे दो आतंकवादियों ने चलती मुठभेड़ के दौरान आज तड़के आत्मसमर्पण कर दिया। इन आतंकवादियों में एक घायल अवस्था में था, जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया है। 

आइजीपी कश्मीर विजय कुमार ने आतंकियों के आत्मसमर्पण करने की पुष्टि करते हुए बताया कि ये दोनों हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़े हुए थे। इन आतंकवादियों से दो एके-47 राइफल व अन्य गोलाबारूद भी बरामद हुआ है। आप को बता दें कि गत शुक्रवार शाम को पुलिस को यह सूचना मिली कि दक्षिण कश्मीर के जिला पुलवामा के लेलहर इलाके में कुछ आतंकवादी छिपे हुए हैं। सूचना के आधार पर मौके पर पहुंचे सेना, एसओजी और सीआरपीएफ जवानों के संयुक्त दल ने इलाके की घेराबंदी करते हुए तलाशी अभियान शुरू कर दिया।

सुरक्षाबलों को अपने नजदीक आते देख आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी शुरू कर दी। अंधेरा होता देख सुरक्षाबलों ने उस मकान को पूरी तरह घेर लिया, जहां आतंकी छिपे हुए थे। बताया जा रहा है कि पूरी रात दोनों ओर से रूक-रूककर गोलीबारी होती रही। इसी दौरान एक आतंकी सुरक्षाबलों की गोली से जख्मी हो गया। आज तड़के एक बार फिर सुरक्षाबलों ने छिपे हुए दोनों आतंकियों को परिजनों का हवाला देते हुए आत्मसमर्पण करने के लिए कहा। इस बार आतंकियों ने इस बात को मान लिया और दोनों आतंकी अपने हथियार डाल मकान से बाहर आ गए।