पंजाब के होशियारपुर जिले के सोली गांव में संदिग्ध 'ऑनर किलिंग' का मामला सामने आया है जिसमें एक परिजनों ने एक किशोरी की हत्या कर उसका अंतिम संस्कार कर दिया। गढ़शंकर पुलिस थाना प्रभारी इकबाल सिंह ने बताया कि कल उन्हें सूचना मिली थी सोली गांव के श्मशान घाट में तड़के किसीका चुपचाप अंतिम संस्कार किया गया। पुलिस वहां पहुंची और चित्ता से हड्डियां और राख इकट्ठी की।


पुलिस ने बताया कि प्रारंभिक जांच के अनुसार 19 वर्षीय जसप्रीत कौर 22 अप्रैल को घर से कहीं चली गई थी और दूसरे दिन लौटी। उसके परिजनों को शक हुआ कि वह इस दौरान भजलन गांव के अमनप्रीत के साथ थी।

इसके बाद 25 व 26 अप्रैल की मध्य रात्रि परिजनों ने अमनप्रीत की हत्या कर दी। आरोप है कि पहले जसप्रीत को नींद की गोलियां दी गईं और बाद में जब वह बेसुध हो गई, गला दबाकर उसकी हत्या की गई।

पुलिस ने सतदेव, उनके बेटे स्वराज उफ मणि, बलविंदर कौर (जसप्रीत की मां), गुरदीप और लाला के खिलाफ हत्या व सबूत नष्ट करने समेत भारतीय दंड संहिता की अन्य धाराओं समेत मामला दर्ज किया है। इन आरोपियों में से सतदेव, बलविंदर कौर और गुरदीप को गिरफ्तार कर लिया गया है व अन्य की तलाश जारी है।