भारतीय जनता पार्टी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन को पूरे देश में  'सेवा और समर्पण' अभियान के तौर पर मनाएगी। इस बार ये अभियान पीएम मोदी के जन्मदिन 17 सितंबर से शुरू होकर 7 अक्टूबर तक चलेगा। बीजेपी (BJP) ने अपने सभी राज्यों और जिला टीमों को  'सेवा और समर्पण' अभियान ('Seva, Samarpan' Campaign) चलाने का निर्देश दिया है। बीजेपी इस अभियान के जरिये दलितों और वंचितों तक पहुंचना चाहती है। इस दौरान बीजेपी  वंचित तबके के लोगों तक मोदी सरकार की नीतियों को पहुंचाने का काम करेगी। 

इस अभियान के लिए बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व ने 4 सदस्यीय कमेटी बनाई है। इसमें पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और डी. पुरंदेश्वरी के साथ-साथ राष्ट्रीय मंत्री विनोद सोनकर और किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजकुमार चाहर को शामिल किया है।  

साल 2014 में मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद से बीजेपी उनके जन्मदिन को 'सेवा दिवस' के रूप में मना रही है और एक सप्ताह के लिए देश भर में कल्याणकारी गतिविधियों का आयोजन करती है, लेकिन इस बार इसे बढ़ाकर 20 दिन कर दिया गया है क्योंकि मोदी चुनावी राजनीति में दो दशक पूरे कर रहे हैं।17 सितंबर से शुरू होकर 7 अक्टूबर तक चलने वाले इस अभियान के औचित्य पर बीजेपी नेताओं का कहना है कि 7 अक्टूबर 2001 को नरेंद्र मोदी ने पहली बार गुजरात मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली थी।

यानी सीएम और पीएम के तौर पर नरेंद्र मोदी को संवैधानिक जिम्मेदारी को निभाते हुए 20 साल पूरे हो जायेंगे। इसलिये जन्मदिन के भव्य आयोजन को 7 अक्टूबर तक चलाने का फैसला बीजेपी नेतृत्व ने लिया है। इस अभियान के जरिये बीजेपी लोगो को सेवा के महत्व और राष्ट्र व समाज के समर्पण भाव को जागृत करेंगे। इसको लेकर बीजेपी पूरे देश में कई कार्यक्रम चलाएगी। सभी प्रदेश और जिला मुख्यालय में पीएम मोदी के व्यक्तित्व और उनके जनकल्याण के कामों की प्रदर्शनी लगाई जाएगी।

पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने इस दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं से टीकाकरण अभियान को सुगम बनाने के लिए कोविड-19 रोधी टीकाकरण शिविरों का दौरा करने के लिए भी कहा है। सेवा अभियान के तहत बीजेपी कार्यकर्ता महात्मा गांधी की जयंती दो अक्टूबर को बड़े पैमाने पर सफाई अभियान चलाएंगे और लोगों को खादी तथा स्थानीय उत्पादों के इस्तेमाल के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। 

देशभर से बीजेपी के कार्यकर्ता पांच करोड़ पोस्टकार्ड भी भेजेंगे जिसमें उल्लेख होगा कि वे जन सेवा के लिए खुद को समर्पित कर रहे हैं। पार्टी ने कार्यकर्ताओं से मोदी को मिले उपहारों की नीलामी का प्रचार-प्रसार करने को भी कहा है। इसी तरह भाजपा का किसान मोर्चा भी मोदी के जन्मदिन को देश के हर जिले में ‘किसान जवान सम्मान दिवस’ के रूप में मनाएगा। इस पहल के तहत पार्टी सैनिकों और किसानों के परिवारों को सम्मानित करेगी।