खासी छात्र संघ (केएसयू), नेशनल यूथ फ्रंट, फेडरेशन आॅफ खासी जयंतिया एंड गारो पीपल और रि-भोई यूथ फेडरेशन के नेताओं ने बुधवार को रि-भोई यूथ फेडरेशन के नेताओं ने बुधवार को रि-भोई जिले के उमालिंग में चल रहे प्रवेश-निकास स्थल निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। निरीक्षण के बाद मीडियाकर्मियों से बात करते हुए केएसयू के अध्यक्ष लामबोक्स्टवेल मारंगर ने कहा कि प्रवेश बिंदू के निर्माण कार्य काफी धीमी गति से जारी है, जो कि एक चिंता का विषय है।


मारंगर ने कहा कि हम प्रवेश-निकास बिंदु के निर्माण कार्य की धीमी गति के प्रगती से चिंतित हैं, जो राज्य के मूल निवासियों के लिए बहुत महत्वपूर्ण मुद्दा है। जबकि वेटब्रिज के निर्माण की बात आती है तो प्रगति काफी तेज होती है। उन्होंने कहा कि संगठन इस पर चुप नहीं बैठेगी, प्रवेश बिंदु के जल्द पूरा होने के लिए सरकार पर दबाव बनाए रखेगा।


मरंगर ने यह भी कहा कि सरकार से हमारी अपील है कि प्रवेश-निकास बिंदु निर्माण कार्य को प्राथमिकता दें, और वर्ष 1971 को अवैध प्रवासियों के लिए कट-आॅफ ईयर के रूप में विचार करें। निरिक्षण के दौरान मौजूद फेडरेशन आॅफ खासी जयंतिया एंड गारों पीपल के नेता वेलबार्थ रानी ने कहा कि प्रवेश बिंदु निर्माण की प्रगति से बिल्कुल भी खुश नहीं हैं। रानी ने अन्य जिलों में भी प्रवेश-निकास बिंदूओं का निर्माण शुरू करने के लिए सरकार की पहल की कमी को बताया।