नागरिकता (संशोधन) विधेयक विरोधी मंच के अध्यक्ष तथा विशिष्ट बुद्धिजीवी डॉ. हीरेन गोहाई की उस अपील को प्रदेश भाजपा ने अतार्किक करार दिया है, जिसमें उन्होंने जनता से लोकसभा चुनावों में भाजपा को रोकने के लिए कांग्रेस के पक्ष में मतदान करने की अपील की है। प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष डाॅ. प्रदीप ठाकुरिया ने डाॅ.गोहाईं की इस अपील को अप्रासंगिक एवं उद्देश्य से प्रेरित बताया है।


जारी एक बयान में डाॅ.ठाकुरिया ने कहा है कि भाजपा यह बात भली-भांति जानती है कि डाॅ. गोहाईं समेत अन्य कई तथाकथित बुद्धिजीवियों की अपील पर राज्य की जनता कभी भी अपने मताधिकार का उपयोग नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि ये तथाकथित बुद्धिजीवी असमवासियों के बीच विभिन्न प्रकार के कुप्रचार चलाकर लोगों को भड़काने की राजनीति करना चहते हैं, लेकिन असम की जनता विकास को सामने रखकर नरेंद्र मोदी को दुसरी बार के लिए देश का प्रधानमंत्री बनाने का काम करेगी।



उन्होंने इस बार के चुनावों को बांग्लादेशी हित और स्थानीय लोगों के हितों के बीच का चुनाव बताया। एआईयूडीएफ का अवैध चुनावी गठबंधन असम की जाति सत्ता को ध्वस्त करने की योजना का एक हिस्सा है।