बिहार के मुंगेर में कोरोना काल में एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है। वैसे तो कोरोना काल में सभी तरह के शादी समारोह बंद हैं लेकिन कुछ लोग हैं जो कोरोना के इन खतरनाक दिनों में भी शादियां कर रहे हैं। सरकार ने शादी  में सिर्फ 30-50 लोगों की ही अनुमति दे रखी है लेकिन फिर शादियां की जा रही है। हाल ही में बिहार के मुंगेर जिले में शादि के 5 घंटे बाद ही दुल्हन की मौत हो गई है।

इस घटना ने दिल को झकझोर कर रख दिया है। शादी के महज पांच घंटे बाद ही दुल्हन ने दम तोड़ दिया है जिसके बाद पति ने श्मशान में नवेली दुल्हन का अंतिम संस्कार किया और पार्थिव शरीर को मुखाग्नि दी। इस तस्वीर ने सभी रुला दिया है। 8 मई को ही दुल्हन निशा की शादी महकोला गांव के रवीश से हुई थी। शादी में सात फेरे लेने और सिंदूरदान के बाद दुल्हन की तबियत बिगड़ी लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका।

निशा ने भागलपुर के निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया। सुहागिन निशा का शव गांव पहुंचने पर परिजनों में चीत्कार मच गया है। गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है। इस हृदय विदारक घटना ने गांव के लोगों की संवेदनाओं को झकझोर कर रख दिया है। रंजन यादव उर्फ रंजय के घर बेटी निशा कुमारी की शादी को लेकर परिवार के लोग काफी खुश और उत्साहित थे लेकिन खुशियों में इस तरह का मातम बहुत ही दुखदायक है।