कुकिंग में एक्सपर्ट इस नन्ही सी बच्ची ने एक घंटे के अंदर 30 से ज्यादा टेस्टी और सुंगधित डिशेज बनाकर हर किसी को हैरान कर दिया।  10 साल की सानवी एम प्रजित ने एक घंटे से भी कम समय में कॉर्न के पकौड़े , उत्थपम, फ्राइड राइस और रोस्टेड चिकेन सहित कई और डिशेज बनाकर ये उपल्ब्धि हासिल की है। 

1 घंटे में पकाए 33 आइट्म्स- भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर प्रंजीत बाबू और एर्नाकुलम की रहने वाली मंजमा की बेटी सान्वी एम प्रजित के इस अद्भुत टैलेंट को एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स और इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स ने भी मान्यता दी है।  

परिवार ने जानकारी दी कि सान्वी एम प्रजित का, एक बच्चे द्वारा बनाए गए सबसे ज्यादा व्यंजनों के तहत रिकार्ड बुक में नाम दर्ज किया गया है।  सानवी ने इस दौरान 33 आइट्मस पकाए, जिनमे इडली, वैफेल, कॉर्न की टिकिया, मशरूम टिक्का, उत्थपम, एग बुलस आई, सैंडविच, पापड़ी चाट, फ्राइड राइस, चिकन रोस्ट, पैनकेक, अप्पम और कई सारे आइटम्स शामिल हैं।  10 साल 6 महीने और 12 दिन की सानवी ने ये रिकॉर्ड 29 अगस्त को बनाया। 

दो गजेटेड आफिसर्स रहे कुकरी कार्यक्रम के साक्षी- बता दें कि एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स के अधिकारियों ने सानवी के विशाखापत्तनम स्थित निवास पर आयोजित कुकरी कार्यक्रम को ऑनलाइन देखा।  सानवी की मां ने बताया कि इस दौरान दो गेजेटेड ऑफिसर्स सानवी द्वारा एक घंटे में पकाए गए 33 आइटम्स के साक्षी रहे। 

वहीं सानवी ने कहा कि वह अपने परिवार, दोस्तों और शुभचिंतकों के कारण ही इस उपलब्धि को हासिल कर पाई हैं।  सानवी ने यह भी कहा कि उसे कुकिंग करने की प्रेरणा अपनी मां से मिली है।  सानवी की मां एक स्टार शेफ हैं और एक रिएलटी शो की फाइनलिस्ट भी रह चुकी हैं।  वहीं मां मंजमा का कहना है कि नन्ही सी उम्र में ही सानवी को किचेन में कुछ न कुछ पकाना काफी भाता था।  वह अपनी दादी और उनके के साथ अक्सर खाना पकाने के दौरान हाथ बंटाती थी।  यहीं से उसके अंदर कुकिंग के प्रति और ज्यादा लगाव पैदा हुआ।