ATM चोरी की एक ऐसी घटना सामने आई है जिसको लेकर हर कोई हैरान है।
एक गांव के बीचों-बीच स्थित एटीएम को तोड़कर चोर ले गए और क‍िसी को भनक तक नहीं लगी। एटीएम में करीब 15 लाख रुपये रखे हुए थे जो एक या दो द‍िन पहले ही भरे गए थे। अंदाजा लगाया जा रहा है कि बदमाशों ने एटीएम को उखाड़ने के लिए रस्सी या लोहे की जंजीर से मशीन को बांधा और उसके बाद अपने फोर व्हीलर से उखाड़ा।

यह मामला राजस्थान के जोधपुर जिले के बिलाड़ा क्षेत्र के भावी गांव का है। यहां गुरुवार देर रात को लूटे गए एटीएम में करीब 15 लाख रुपये भरे हुए थे।

यह राशि भी एक या दो दिन पहले ही भरी गई थी जिससे इस बात की संभावना है कि बदमाशों के निशाने पर एटीएम पहले से ही था लेकिन अचरज वाली बात यह है कि गांव के बीचों-बीच स्थित एटीएम को तोड़कर ले जाने के दौरान किसी को इसकी भनक नहीं लगी।

इस पूरी घटना को किसी ने नहीं देखा जबकि एटीएम उखाड़ने में भी बदमाशों को समय लगा था। एटीएम कक्ष में भी कोई कैमरा नहीं था अलबत्ता पुलिस के पास सिर्फ गांव की गलियों से निकलती बदमाशों की गाड़ी के फुटेज ही लगे हैं जिसके आधार पर उनकी पहचान कर तलाश की जा रही है। घटना गुरुवार रात 2 बजे के बाद की है।

घटना के बाद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुनील के पंवार भी भावी गांव पहुंचे और उन्होंने मौका मुआयना किया। उन्होंने बताया कि एटीएम में करीब 15 लाख रुपये भरे हुए थे।

मौके पर वाहन को आगे-पीछे करने के कई निशान मिले हैं जिससे इस बात का अंदाजा लगाया जा रहा है कि बदमाशों ने एटीएम को उखाड़ने के लिए रस्सी या लोहे की जंजीर से मशीन को बांधा और उसके बाद अपने फोर व्हीलर से उसे कई प्रयास के बाद उखाड़ने में कामयाब हुए।

बिलाड़ा थाना अधिकारी व सर्कल ऑफ‍िसर ने बताया क‍ि अलग-अलग टीमें बनाकर बदमाशों की तलाश की जा रही है।