गुलाब का इस्तेमाल कई तरह के ब्यूटी प्रॉडक्ट्स में किया जाता है, क्योंकि यह त्वचा और बालों को मॉइस्चराइज़ करने के साथ ही इंफ़्लेमेशन को भी कम करता है। सेंसेटिव स्किन वाले भी गुलाब के फूल का इस्तेमाल स्किन केयर में कर सकते हैं। मुंहासों की समस्या दूर करनी हो या चाहिए गुलाब सी निखरी रंगत, गुलाब के फूल से मुमकिन से इसे पूरा कर पाना।

गुड़हल का फूल डेड स्किन से दूर कर नए सेल्स ग्रोथ में मदद करता है। इसके इस्तेमाल से बढ़ती उम्र के असर को आसानी से कम किया जा सकता है। स्किन के अलावा यह बालों के लिए भी बहुत ही फ़ायदेमंद है। गुड़हल का तेल मार्केट में अवेलेबल है इससे बालों की ग्रोथ तेज होती है। इसके अलावा गुड़हल के फूल को पानी में मिलाकर इस्तेमाल करने से भी बाल हेल्दी होते हैं।

गेंदे के फूल से सनबर्न से लेकर रैशेस और यहां तक कि चेहरे के दाग़ और काले धब्बों का भी इलाज किया जा सकता है। गेंदे के फूल को फेस पैक में इस्तेमाल करने से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है, नए स्किन सेल्स की ग्रोथ होती है। कोलेजन का प्रोडक्शन बढ़ता है, जिससे आपकी स्किन सेहतमंद दिखाई देती है।

लैवेंडर त्वचा और बालों की समस्याएं दूर करने में बहुत ही असरदार होता है। रिंकल्स, मुंहासों दूर करने के अलावा बालों को मॉइश्चराइज करने में भी मदद करता है। यह रात के समय अच्छी नींद पाने व तनाव से राहत दिलाने में भी मददगार है।

चमेली के फूल में एंटी-एजिंग तत्व पोर्स को क्लीन करने, फ़ाइन लाइन्स कम करने का काम करता है। एंटी-ऑक्सिडेंट्स की मौजूदगी स्किन को हेल्दी और निखारने का काम करती है। चमेली के तेल के इस्तेमाल से बाले घने और मज़बूत होते हैं।