इन सर्दियों में अगर आप कहीं घूमने का प्लान बना रहे हैं तो आपकी जेब ज्यादा खर्च की इजाजत नहीं दे रही है तो हम आपको अपनी खबर में ऐसी जगहों के बारें में बता रहे हैं, जहां जाने पर आपका ज्यादा पैसे खर्च नहीं होगे साथ ही आपके लिए यह ट्रिप यादगार भी हो जाएगी। जानिए ऐसी जगहों के बारें में।

ऋषिकेश, उत्तराखंड
अगर आप राफ्टिंग और ट्रैकिंग का शौक रखते हैं, तो आपको एक बार ऋषिकेश जरूर आना चाहिए। इतना ही नहीं यहां के ऊंचे-ऊंचे पहाड़ों पर आपको गजब का सुकून मिलेगा। इतना ही नहीं यहां का लक्ष्मण झूला भी बेहद खास है। गंगा नदी के एक किनार को दूसर किनार से जोड़ता यह झूला नगर की विशिष्ट की पहचान है। इसे 1939 में बनवाया गया था। कहा जाता है कि गंगा नदी को पार करने के लिए लक्ष्मण ने इस स्थान पर जूट का झूला बनवाया था। झूले के बीच में पहुंचने पर वह हिलता हुआ प्रतीत होता है। 450 फीट लंबे इस झूले के समीप ही लक्ष्मण और रघुनाथ मंदिर हैं। झूले पर खड़े होकर आसपास के खूबसूरत नजारों का आनंद लिया जा सकता है। लक्ष्मण झूला के समान राम झूला भी नजदीक ही स्थित है।


दार्जिलिंग, पश्चिम बंगाल
चारों तरफ पहाड़ और उन पर फैले चाय के बागान, जी हां पश्चिम बंगाल का दार्जिलिंग कुछ ऐसा ही है। इसे बंगाल का स्वर्ग भी कहा जाता है। मानसून के मौसम में दार्जिलिंग की सैर एक अनोखा और यादगार पल होगा। क्योकि चारों और फैले चाय के बागान और दार्जिलिंग की हसीन वादियां आपका मन मोह लेंगे। यहां पर कई जगहें है जहां पर आप घूम सकते है।


शिलांग, मेघालय

मेघालय की राजधानी शिलोंग को प्रकृति ने बेहद ही खूबसूरती के साथ सजाया है। इस जगह को पूरब का स्कॉटलैंड भी कहा जाता है। पहाडिय़ों पर बसा भले ही ये एक छोटा सा शहर हो, लेकिन इसकी खूबसूरती पर्यटकों को अपनी ओर खींच ही लेती है। वैसे तो यहां पूरे साल मौसम सुहावना रहता है, लेकिन सर्दियों की शुरुआत में यहां के मौसम में चार चांद लग जाते हैं।

होशर्ली हिल्स, आंध्र प्रदेश
अगर आपक कुछ पल नेचर के करीब और शांति के बीच बिताना चाहते हैं तो आपके लिए आंध्र प्रदेश के होशर्ली हिल्स से बेहतरीन कोई और जगह नहीं हो सकती है। यह जगह समुद्र तल से 1265 मीटर की ऊंचाई पर हैं। यहां की सड़कों की दोनों ओर की हरियाली आपके दिल को छू जाएगी। इतना ही नहीं यहां आपको सड़कों पर घूमते भालु, चीता और सांभर भी दिख सकते हैं। यहां पर कई जगह देखने लायक है जैसे कि गंगोत्री झील, गली बंदा, होशलीं हिल्स, ट्रैकिंग आदि।