भारतीय रेलवे (Indian Railways) , ट्रेन सेवा को बेहतर बनाने के नए प्रयासों में जुटा हुआ है।  पर्यावरण सुरक्षा को देखते ध्यान में रखते हुए रेलवे कई अहम प्रोजेक्ट्स भी शुरू करने जा रहा है।  इसी सिलसिले में रेलवे अब पैंट्री कार के सिस्टम में (Railways is now preparing to make a big change in the system of Pantry Car) बड़ा बदलाव करने की तैयारी कर रहा है।  जानकारी के अनुसार, हाल ही में रेलवे ने एक (railways has changed a pantry car to flameless electric design) पैंट्री कार को फ्लेमलेस इलेक्ट्रिक डिजाइन में बदला है। 

माना जा रहा है कि यह जल्द ही लंबी दूरी की ट्रेनों का हिस्सा होगी।  ये फ्लेमलेस पैंट्री (flameless pantry is very safe and user friendly) इस्तेमाल के हिसाब से बेहद सुरक्षित और यूजर फ्रेंडली है।  इससे प्रदूषणकारी जीवाश्म ईंधन की बचत होगी और खाना भी पहले के मुकाबले जल्दी तैयार हो सकेगा। 

रेलवे ने यह कदम रेल यात्रियों (Provide better catering facilities to railway passengers)  को बेहतर खानपान की सुविधा प्रदान करने के लिए उठाया है।  इस नई पैंट्री कार में अत्याधुनिक रसोई उपकरण लगाए गए हैं।  जहां पहले एलपीजी का इस्तेमाल किया जा रहा था, अब वहां बिजली का (electricity will be used there) प्रयोग किया जाएगा।  इसे स्टेनलेस स्टील से बनाया गया है, जिससे सफाई आदि का भी खास ध्यान रखा जा सकेगा।  हाल ही में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव (Railway Minister Ashwini Vaishnav) ने भी इस पेंट्री कार का दौरा किया था। 

रेलवे की यह खास रसोई लखनऊ की आलमबाग (special kitchen of Railways has been made in Alambagh workshop of Lucknow) वर्कशॉप में बनाई गई है और अभी दिल्ली में है।  कुछ साल पहले रायबरेली में मॉडर्न कोच फैक्ट्री (Modern Coach Factory) ने पहली बार एलबीसी हॉट बफे पैंट्री कार कोच भी बनाया था और इसमें वेंडर्स को बेहतर खानपान सुविधाएं प्रदान करने के लिए कई आधुनिक सुविधाएं प्रदान की गई थी।  ये कोच पूरी तरह से एयर कंडीशंड था।